Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गिनीज़ बुक में यह रिकार्ड दर्ज करने वाला था 37 अरब के फ्राड का नायक अनुभव मित्तल

 shabahat |  2017-02-11 17:31:29.0

गिनीज़ बुक में यह रिकार्ड दर्ज करने वाला था 37 अरब के फ्राड का नायक अनुभव मित्तल


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. फर्जी कम्पनी बनाकर लगभग साढे छः लाख लोगों से धोखाधडी करके 37 सौ करोड़ रूपये से अधिक वसूलने वाले प्रकरण में एसटीएफ गौतमबुद्धनगर ने पहली फरवरी को आनलाइन मनी सरकुलेशन रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए 3 सदस्यों को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार लोगों से पूछताछ के बाद इस घोटाले की परतें खुलती जा रही हैं.

एब्लेज इन्फो सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक अनुभव मित्तल, सह-अभियुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीधर प्रसाद तथा वेब डिजाईनर/टैक्निकल हेड महेश दयाल को जूनियर डिविजन मजिस्ट्रेट, गौतमबुद्धनगर के आदेश दिनांक 8 फरवरी के क्रम में प्रकरण की जांच के लिये गठित एसआईटी द्वारा दिनांक 9 फरवरी से 14 फरवरी तक पुलिस अभिरक्षा रिमाण्ड पर लिया गया है. कम्पनी के मुख्य अभियुक्त/निदेशक अनुभव मित्तल एवं सह-अभियुक्तो से की गयी गहन पूछताछ और उसकी निशानदेही पर एसआईटी टीम द्वारा अभियुक्त अनुभव मित्तल की निशानदेही पर एब्लेज इन्फो सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के आरडीसी, गाजियाबाद स्थित कार्यालय पर सर्च/सीजर की कार्यवाही की गयी तो वहां से 32 सीपीयू और लगभग 7 करोड रूपये के बैंक ड्राफ्ट तथा अन्य महत्वपूर्ण अभिलेख बरामद हुए हैं.

अभिुयक्त अनुभव मित्तल से की गयी पूछताछ एवं उसकी निशानदेही पर एब्लेज इन्फो. सोल्यूशन प्रा. लि. कम्पनी के नाम पर खरीदा गया एक विला, जो जेपी ग्रीन्स, ग्रेटर नोएडा में स्थित है, में सर्च की कार्यवाही की गयी तो इनके विला के स्वामित्व सम्बन्धी अभिलेख तथा ओमेक्स कम्पनी के नाम कनाटप्लेस ग्रेटर नोएडा में खरीदी गयी कामर्शियल प्रोपर्टी के दस्तावेज बरामद हुए. इसके अतिरिक्त वहां से विभिन्न व्यक्तियों के 36 भारतीय पासपोर्ट भी बरामद हुए हैं. अनुभव मित्तल ने पूछताछ पर बताया कि ये पासपोर्ट डायमण्ड एवं गोल्ड डिस्ट्रीब्यूटर्स के हैं, जिनको कम्पनी द्वारा 6 रात्रि व 7 दिवस के टूर के लिए 13 मार्च 2017 से 19 मार्च 2017 तक की अवधि में आस्ट्रेलिया ले जाना था. यह संख्या कम्पनी द्वारा 150 तक निर्धारित की गयी थी, जिसके लिए अन्य श्रेणी के अन्य डिस्ट्रीब्यूटर्स चिन्हित किये जा रहे थे. यह विदेश यात्रा डिस्ट्रीब्यूटर्स व अन्य सदस्यों को व्यवसाय वृद्धि एवं उत्सावर्धन हेतु प्रस्तावित थी.

इस 150 सदस्यीय विशेष दल द्वारा आस्ट्रेलिया जाकर एक साथ स्काई डाईविंग कर अंतर्राष्ट्रीय रिकार्ड बनाया जाना था, जिसे गिनिज बुक आफ रिकार्ड में दर्ज कराया जा सके. इस टूर के लिए अभियुक्त श्रीधर(कम्पनी का मुख्य कार्यकारी अधिकारी) को समन्वय हेतु कम्पनी की तरफ से नामित किया गया था. अभियुक्त श्रीधर से पूछताछ पर ज्ञात हुआ है कि कम्पनी द्वारा इस टूर हेतु पूना स्थित एक संस्था से सम्पर्क साधा गया था और इस कार्य हेतु आंशिक धनराशि के रूप में 3 करोड़ रूपये का चेक पूना स्थित संस्था के खाते में लगाया गया था. इस धनराशि की निकासी/खर्च न करने हेतु सम्बन्घित कम्पनी/बैंक से सम्पर्क किया जा रहा है.

एसटीएफ को अब तक लगभग नौ हजार चार सौ शिकायते प्राप्त हो चुकी हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top