Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

डिजिटल भुगतान पर जेटली के 11 बड़े ऐलान, इन सब भी मिलेंगे छूट

 Girish Tiwari |  2016-12-09 03:17:15.0

arun-jetly-finance-minister
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


नई दिल्ली. मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की घोषणा के 30 दिन पूरे होने के मौके पर केंद्रीय वित्त मंत्रीअरुण जेटली ने कहा कि सरकार द्वारा नोटबंदी का असल मकसद कैश ट्रांजेक्शन को कम करके डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ाने की कोशिश है और इसमें बहुत हद तक कामयाबी भी मिली है. सिर्फ पेट्रोल और डीजल की बात करें तो पेट्रोल पंप पर अभी ही 40 प्रतिशत लेनदेन कैशलेस हो गया है.


रोजाना 4.5 करोड़ उपभोक्ता 1,800 करोड़ रुपये का डीजल और पेट्रोल खरीदते है, डिजिटल भुगतान 40 प्रतिशत बढ़ा है. डेबिट, क्रेडिट कार्ड अथवा ऐसे ही किसी अन्य डिजिटल तरीके से आप यदि पेट्रोल, डीजल खरीदते हैं या फिर रेलवे टिकट के लिए भुगतान करते हैं तो आपको कुछ छूट दी जायेगी.


सरकार ने 2,000 रुपये के लेनदेन का भुगतान कार्ड के जरिये करने पर सेवाकर समाप्त कर दिया है. इसी प्रकार पेट्रोल, डीजल खरीदने पर भुगतान यदि क्रेडिट, डेबिट कार्ड, ई-वॉलेट अथवा मोबाइल वॉलेट से किया जाता है तो 0.75 प्रतिशत की छूट मिलेगी.


वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नकदीरहित आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए गुरुवार को कई प्रकार की खरीद-फरोख्त पर डिजिटल भुगतान करने पर रियायत और सेवा कर में छूट के सरकार के 11 निर्णयों की घोषणा की.


सार्वजनिक कंपनियों की वेबसाइट के जरिये जीवन बीमा पॉलिसी खरीदने या प्रीमियम भुगतान ऑनलाइन करने पर 8 प्रतिशत छूट दी जायेगी.


इसी प्रकार साधारण बीमा पॉलिसी लेने या फिर प्रीमियम भुगतान ऑनलाइन करने पर 10 प्रतिशत की छूट मिलेगी. जेटली ने प्रेस कांफ्रेंस में जो घोषणाएं की उसकी कुछ अहम बातें इस प्रकार से हैं...


1. हर 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले गांव में दो पीओएस यानी प्वाइंट ऑफ सेल लगाए जाएंगे. ऐसे करीब एक लाख गांवों का चयन किया जाएगा.


2. ग्रामीण क्षेत्रों में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए स्वाइप मशीन और माइक्रो एटीएम को बढ़ावा दिया जाएगा.


2. देश में करीब 4.32 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल किए जाते हैं, इन सभी को नाबार्ड द्वारा रुपे कार्ड दिया जाएगा.


3. शहरी क्षेत्रों में मंथली-सीजनल टिकट डिजिटल तरीके से लेने वालों को 0.5 फीसदी का डिस्काउंट दिया जाएगा. इसे सबसे पहले मुंबई में लागू किया जाएगा.


4. ऑनलाइन रेलवे टिकट लेने वालों को 10 लाख रुपये का अलग से एक्सीडेंटल बीमा कवर दिया जाएगा.


5. रेलवे की कैटरिंग, रिटायरिंग रूम्स जैसी सुविधाओं के लिए डिजिटल पेमेंट करने वाले को 5 फीसदी की छूट दी जाएगी.


6. देश भर के सभी टोल प्लाजा पर डिजिटल पेमेंट के द्वारा आरएफआइडी और फास्टैग कार्ड लेने पर 10 फीसदी की छूट दी जाएगी.


7. सरकारी क्षेत्र की बीमा कंपनियों के कस्टमर पोर्टल से इंश्योरेंस लेने पर और प्रीमियम देने पर जनरल इंश्योरेंस पर 10 प्रतिशत की छूट दी जाएगी और लाइफ इंश्योरेंस पर 8 प्रतिशत की छूट मिलेगी.


8. केंद्रीय विभाग और पीएसयू सुनिश्चित करेंगे कि ट्रांजैक्शन फीस और एमटीआर चार्जेज का बोझ न पड़े.


9. पीएसयू बैंक यह सुनिश्चित करेंगे कि माइक्रो, एटीएम, पीओएस टर्मिनल और मोबाइल पीओएस का किराया 100 रुपये से अधिक न हो.


10. 2000 रुपये के सभी डिजिटल ट्रांजैक्शंस पर सर्विस टैक्स लागू नहीं होगा.


11. डिजिटल पेमेंट करने वालों को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 0.75 फीसदी की छूट दी जाएगी.


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top