Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आईएसएल : गोवा से ड्रॉ खेल दूसरे स्थान पर पहुंचा मुम्बई

 Vikas Tiwari |  2016-11-16 17:47:45.0

isl


फातोर्दा (गोवा). मुम्बई सिटी एफसी ने बुधवार को यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे सीजन के अपने 11वें मैच में मेजबान गोवा को गोलरहित बराबरी पर रोक दिया। मुम्बई की टीम इस मैच से हासिल एक अंक के साथ आठ टीमों की तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गई।

मुम्बई के 11 मैचों से 16 अंक हो गए हैं। इस मैच से पहले मुम्बई की टीम 15 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर थी, लेकिन अब उसने केरला ब्लास्टर्स को पीछे छोड़ दिया है, जिसके खाते में 15 अंक हैं। केरल की टीम बेहतर गोल अंतर के कारण अब तक मुम्बई से ऊपर थी।


दूसरी ओर, गोवा की टीम इस मैच से मिले एक अंक के साथ तालिका में एक स्थान ऊपर सातवें स्थान पर पहुंच गई है। नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी आठवें स्थान पर खिसक गया है। इस ड्रॉ ने निश्चित तौर पर गोवा का काम खराब किया है लेकिन मुम्बई को इससे एक लिहाज से फायदा पहुंचा है।

इसका कारण यह है कि आज मुम्बई की टीम अपनी साख के साथ न्याय नहीं कर सकी। गोवा ने उससे काफी बेहतर खेल दिखाया। यह उसका दुर्भाग्य है कि उसे जीत नहीं मिली। गोवा की टीम अपने खेल से काफी खुश होगी लेकिन तीन अंक नहीं मिल पाने का उसे मलाल भी रहेगा।

गोवा ने इस सीजन में मुम्बई को उसी के घर में 1-0 से हराया था और एक बार फिर उसने मुम्बई को हार का स्वाद चखाने का मन बना लिया था लेकिन कई मौके मिलने के बाद भी उसके खाते में गोल नहीं दर्ज हुआ।

इसका कारण यह है कि मुम्बई की रक्षापंक्ति ने अच्छा खेल दिखाया लेकिन कप्तान डिएगो फोर्लान के नेतृत्व में आक्रमणपंक्ति का खेल औसत रहा। बीते दो मैचों से भारतीय टीम के कप्तान सुनील छेत्री की मौजूदगी भी मुम्बई के लिए राहत नहीं लेकर आई है। सुनील अब तक एक भी गोल नहीं कर सके हैं।

मुम्बई की टीम अगर यह मैच जीत जाती तो वह 18 अंकों के साथ पहले स्थान पर पहुंच सकती थी।

दूसरी ओर, गोवा ने अपने अंतिम मैच में नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी को 2-1 से हराया था। उस मैच में इस टीम ने बेहतरीन खेल दिखाया था और इसका असर मुम्बई के खिलाफ भी दिखा। यह अलग बात है कि जीको की यह टीम तीन अंक लेने में असफल रही और इससे उसे भविष्य में काफी नुकसान होने जा रहा है।

गोवा की टीम ने अपने घर में पांच मैच खेले हैं लेकिन इनसे वह सिर्फ पांच अंक जुटा सकी है। उसने अपने घर में लगातार तीन मैच गंवाए हैं।

इस बराबरी के मैच के बाद अब मुम्बई को एटलेटिको दे कोलकाता और पुणे से खतरा उत्पन्न हो गया है और सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए अब उसे हर हाल में अपने बाकी के तीन मैच जीतने होंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top