Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कबड्डी विश्व कप: भारत की बांग्लादेश के खिलाफ आज कांटे की टक्कर

 Vikas Tiwari |  2016-10-11 06:32:45.0

kabaddi_650x400_71475963880


अहमदाबाद: कबड्डी विश्व कप-2016 के अपने तीसरे मुकाबले में जब खिताब की प्रबल दावेदार भारतीय टीम आज द एरेना बाय ट्रांसस्टेडिया में बांग्लादेश का सामना करने उतरेगी तो उसका लक्ष्य सिर्फ और सिर्फ जीत हासिल करना होगा। अपने पहले ही मुकाबले में हार का सामना कर चुकी भारतीय टीम को अगर सेमीफाइनल में पहुंचने की राह आसान बनानी है, तो उसे बांग्लादेश के खिलाफ आज होने वाले मुकाबले को जीतने का हर प्रयास करना होगा।


अब तक एक हार और एक जीत अपने खाते में दर्ज कर चुकी भारतीय टीम को अगर अपने तीसरे मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा, तो उसके लिए सेमीफाइनल का रास्ता लगभग बंद हो जाएगा।

टूर्नामेंट के ग्रुप-ए में बांग्लादेश से एक अंक आगे छह अंकों के साथ दूसरे स्थान पर काबिज भारतीय टीम को अपने पहले मुकाबले में दक्षिण कोरिया से हार का सामना करना पड़ा था। दक्षिण कोरिया के 10 अंक हैं और वह ग्रुप में शीर्ष पर है।

दक्षिण कोरिया ने भारत को रोमांचक मुकाबले के अंतिम क्षणों में दबाव बनाकर 34-32 से हराया था।

भारतीय टीम के स्टार रेडर राहुल चौधरी ने दक्षिण कोरिया से मिली हार के बारे में कहा, "कबड्डी विश्व कप में हम अपना पहला मुकाबला अपनी कमियों के कारण हारे। किसी भी चीज की अति ठीक नहीं और हमें खुद पर अति-आत्मविश्वास हो गया था।"

पहले मुकाबले में मिली हार से सीख लेते हुए भारतीय टीम ने दूसरे मुकाबले में आस्ट्रेलिया को 54-20 के स्कोर से हराया। हालांकि, टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने की संभावना बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले मुकाबले के परिणाम के बाद ही तय हो पाएगी।

टूर्नामेंट में बांग्लादेश ने अपने पहले मुकाबले में ही इंग्लैंड को 52-18 के अंतर से मात देकर यह साबित कर दिया है कि किसी भी प्रतिद्वंद्वी टीम के लिए उसके खिलाफ जीत हासिल करना आसान नहीं होगा।

बांग्लादेश टीम के कप्तान मोहम्मद अरुदुजमान मुंशी का यह कहना है कि वह अपने अगले मैच में भारत को हराने के बारे में बिल्कुल नहीं सोच रहे हैं क्योंकि उनके लिए तो कबड्डी का मतलब ही भारत है और उनकी टीम अगले ग्रुप मैच में भारत के खिलाफ सिर्फ हार के अंतर को कम रखने का प्रयास करेगी। वहीं, एक मुकाबले में हार का सामना कर चुकी भारतीय टीम अपने हर मुकाबले को गंभीरता से ले रही है।

भारतीय टीम के कोच के. भास्करन ने अभ्यास सत्र के दौरान आईएएनएस से कहा, "टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने की राह आसान करने के लिहाज से टीम के लिए अगला मुकाबला जीतना बेहद जरूरी है। इसलिए, हम हर चीज को गंभीरता से ले रहे हैं।"

इस बीच, कप्तान अनूप कुमार को आराम करने का अवसर दिया गया है। टखने में दर्द की शिकायत के कारण उन्हें आराम दिया गया और कोच का कहना है कि वह अगले मुकाबले के लिए फिट हैं।

प्रो कबड्डी लीग चैम्पियन पटना पाइरेट्स टीम के कप्तान और भारतीय टीम के दिग्गज डिफेंडर धर्मराज चेरालथन ने भी स्वीकार किया कि उनकी टीम ने कोरिया को हल्के में लेने की भूल की थी लेकिन अब उसे हालात की गंभीरता का आभास हो गया है और वह अपनी 100 फीसदी शक्ति के साथ बाकी के मैचों में खेलेगी।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top