Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मुम्बई उपनगरों में रामलीला शुरू कराने वाले रामजस उपाध्याय नहीं रहे

 Sabahat Vijeta |  2016-03-20 12:43:40.0

gov-upadhyayलखनऊ, 20 मार्च. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज अमौसी एयरपोर्ट जाकर स्वर्गीय रामजस उपाध्याय के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र रखकर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की एवं अंतिम दर्शन किये। स्वर्गीय रामजस उपाध्याय मूलतः अयोध्या के निवासी थे और मुम्बई में उनके सहयोगी रह चुके थे। रामजस उपाध्याय का अंतिम संस्कार उनके गृह जनपद में किया जायेगा।


राज्यपाल ने अपने शोक संदेश में कहा है कि स्वर्गीय रामजस हिन्दी साहित्य संस्थान मुम्बई के अध्यक्ष रह चुके हैं और मुम्बई उपनगरों में रामलीला शुरू करने का श्रेय उनको जाता है। वे लगभग तीन दशकों से बोरीवली मुंबई में रामलीला का आयोजन करते थे तथा उत्तर भारतीय समाज के विविध कार्यक्रम के आयोजन के साथ-साथ शिक्षा के प्रसार के लिए समर्पित थे। उन्होंने अयोध्या में कई विद्यालय एवं महाविद्यालय स्थापित किए। स्वर्गीय उपाध्याय मुम्बई में सफल दुग्ध व्यवसायी थे। उन्होंने कहा कि श्री उपाध्याय के निधन से उन्होंने अपना एक अच्छा मित्र खो दिया है।


श्री नाईक ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को सद्गति प्रदान करने की कामना के साथ दुःखी परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top