Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

GOOD NEWS: रक्षाबंधन के मौके पर UPSRTC चलाएगा अधिक बसें

 Anurag Tiwari |  2016-08-12 10:55:19.0

UPSRTC, Extra Buses, Raksha Bandhan, रक्षा बंधन, रोडवेज, Managing Director, Ashish Kumar Goel

तहलका  न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन  (यूपीएसआरटीसी) रक्षाबन्धन के मौके पर पैसेंजर्स को आने-जाने  की अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध कारने जा रहा है. इसके लिए यूपीएसआरटीसी ने 16 से 21 अगस्त तक अधिक से अधिक बसें चालने का फैसला किया है। इस संबंध में पूरे प्रदेश के डेपो को जरूरी निर्देश जारी कर दिये गये हैं।

शुक्रवार को यूपीएसआरटीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर अशीष कुमार गोयल ने बताया कि रक्षाबंधन के अवसर पर रोडवेज अधिक से अधिक बसें चलायेगा ताकि पैसेंजर्स को आने-जाने में कोई दिक्कत न हो। उन्होंने बताया कि इस बारे में सभी रीजनल मैनेजर्स, सभी सर्विस मेनेजर डिपो को जरूरी निर्देश जारी कर दिेये गये हैं।


गोयल ने बताया कि रक्षा बंधन और इसके पहले या इसके तुरन्त बाद पैसेंजर्स की आवाजाही बहुत बढ़ जाती है। पैसेंजर्स की इस बढ़ी हुई आवजाही का फ़ायदा उठाने के और पैसेंजर्स को अतिरिक्त सुविधा देने के लिए जरूरी कि 16 से 21 अगस्त तक अधिक से अधिक बसें चलाई जायें।

इस दौरान यूपीएसआरटीसी अधिक से अधिक बसें चलाकर कर अपनी इनकम में बढ़ोतरी करने के लिए विशेष प्रोत्साहन योजना भी लागू करेगा। दिल्ली से पूर्वी क्षेत्र के स्थानों के लिये दिल्ली से गाजियाबाद, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली क्षेत्रों के लिये संचालन का वर्तमान प्रतिबन्ध नहीं रहेगा।

वहीं दिल्ली से अलीगढ़-कानपुर होते हुये पूर्वी क्षेत्र के लिये अलीगढ़,गाजियाबाद, आगरा व इटावा क्षेत्र के लिये संचालन की सीमा समाप्त कर दी गई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रों से यदि दिल्ली हेतु प्रारम्भिक प्वाइंटस से 60 प्रतिशत से अधिक पैसेंजर्स लोड मिलता है तो सभी पूर्वी क्षेत्र दिल्ली के लिये अतिरिक्त सेवायें संचालित कर सकते हैं।

इस अवधि में दिल्ली, लखनऊ व कानपुर, अलीगढ़, आगरा, इटावा, बरेली व पूर्वी क्षेत्रों के लिए सभी क्षेत्र अतिरिक्त सेवा संचालित कर सकते हैं। मैनेजिंग डायरेक्टर ने बताया कि रक्षाबंधन के अवसर पर मृत्यु या बीमारी जैसी अति विशिष्ट परिस्थितियों को छोड़कर बस संचालन से संबंधित अधिकारियों, पर्यवेक्षकों,चालकों,परिचालकों एवं अन्य कर्मचारियों को कोई भी अवकाश,साप्ताहिक विश्राम,डीडीआर स्वीकृत नहीं किया जायेगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top