Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

वाराणसी: मूर्ति ही नहीं कलश विसर्जन पर भी लगी रोक

 Anurag Tiwari |  2016-09-28 10:41:18.0

[caption id="attachment_118149" align="aligncenter" width="1024"]दुर्गा पूजा, विसर्जन, वाराणसी, हाईकोर्ट, रोक, कलश, दुर्गा पूजा समिति प्रतीकात्मक चित्र[/caption]

तहलका न्यूज ब्यूरो

वाराणसी. जिला प्रशासन ने दुर्गा पूजा के बाद न केवल मूर्तियों बल्कि पंडाल में  रखे कलशों के भी नदी में प्रहावित करने पर रोक लगा दी है. जिला प्रशासन के निर्देशानुसार अब पश्चिम बंगाल के बाद काशी में पूजा कमेटियों को पंडालों में रखे गए कलश को भी गंगा में विसर्जन की अनुमति नहीं दी जाएगी.

मंगलवार को देर शाम तक घंटों चली बैठक के बाद जिला प्रशासन ने यह फैसला सुनाया है. बता दें कि हाई कोर्ट के आदेश के पालन के लिए प्रशासन ने पूजा कमिटियों को यह निर्देश दिया है कि पिछले साल की भांति इस साल भी किसी भी हाल में में पूजा पंडालों में स्थापित मां दुर्गा की मूर्ति या कलशों का विसर्जन भी गंगा में नहीं किया जा सकेगा.


जल प्रवाहित करने पर भी रोक

घंटो चली इस बैठक में काशी की केन्द्रीय पूजा समिति के अध्यक्ष कार्य मंत्री तिलकराज मिश्र ने जिला प्रशासन सुझाव दिया कि दुर्गा पूजा के पंडालों में रखे कलश का केवल जल गंगा में प्रवाहित करने की अनुमति दी जानी चाहिए. इस पर भी जिला प्रशासन ने साफ़ शब्दों में मनाही का निर्देश सुनाते हुए कहा कि इसके लिए भी किसी भी परिस्थिति में अनुमति नहीं दी जाएगी. इस बैठाक में यह आम सहमति बनी कि प्रत्येक शहर की पूजा समितियों के आयोजकों के द्वारा तय किए गए तालाबों और कुण्डों में ही दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन किया जाएगा.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top