Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इस दीवाली करीबियों को दीजिये पुस्तकों का उपहार

 Sabahat Vijeta |  2016-10-24 08:54:53.0

lko-book-fair
लखनऊ. इस दीपावली अपने करीबियों को भेंट में दिये जाने वाले उपहारों में किताबों को भी शामिल कीजिए. यह आग्रह अनेक वक्ताओं गागर में सागर पुस्तक मेला समापन समारोह के मंच से किया. मोतीमहल लॉन में चल रहे आधी आबादी पर केन्द्रित राष्ट्रीय पुस्तक मेले का आज पुरस्कार वितरण आदि के साथ समाप्त हो गया. समापन दिवस आज भी बहुत से पुस्तकप्रेमियों ने दीपावली आफर की 30 फीसदी छूट का लाभ लिया.


मेले के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर रचनाकार डा.विद्याविंदु सिंह ने मेले की विशिष्ट अवधारणा को सराहा. संयोजक देवराज अरोड़ा ने बताया कि पुस्तक संस्कृति को बढ़ावा देने के मकसद से ये उनका अभिनव प्रयोग था और अगले गागर में सागर आयोजन को और परिष्कृत कर आयोजित किया जाएगा.


इस अवसर पर सहयोग के लिए ज्योति किरन रतन, पदम्कांत शर्मा, रश्मिशील, मुरलीधर आहूजा, अनिल टेकड़ीवाल, महेन्द्र भीष्म को सम्मानित किया गया. इसके साथ ही बाल तवयुवा प्रतियोगिताओं के विजेताओं अरुश्री सिंह, त्विषा, तनिष्का, सौम्या, अरिका टण्डन, ख्याति सिद्धि, राहुल, अश्वित रतन, स्वप्निल, हितेश, राधिका को पुरस्कृत किया गया. अंत में आभार नीरू अरोड़ा व अतुल माहेश्वरी ने व्यक्त किया.


आज साहित्यिक आयोजनों में अनीता श्रीवास्तव की पुस्तक ‘थापी’ का लोकार्पण हुआ तो अपराह्न दीपाली के संचालन व शरद मिश्र के संयोजन में चले कार्यक्रम जगदीशनारायण मिश्र स्मृति व्याख्यान ‘स्वस्थ जीवन’ में मुख्यअतिथि पूर्व एडीजी रामसागर शुक्ल, व गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में कान्तिप्रसाद अग्रवाल, बीएम सिंह, करुणाशंकर दुबे, देवराज अरोड़ा, राजेश राय, प्रो.एके शर्मा, डा.एमएलबी भटट, नूतन वशिष्ठ और सीमा मिश्रा को सम्मानित किया गया. मेले में आज भी दिल्ली के गौरव मिश्र व साथियों ने पक्षियों का जीवन सहेजने के लिए अपनी पुतलों सरीखी अभिनव कृतियों व गतिविधियों से पुस्तक प्रेमियों को प्रेरित करने में लगे रहे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top