Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गंगा की सफाई तभी सम्भव, जब अन्य नदियां भी साफ होंगी

 Sabahat Vijeta |  2016-04-26 15:51:16.0


  • वाराणसी में मेट्रो रेल सहित तमाम बड़ी परियोजनाओं पर तेजी से काम चल रहा है

  • समाजवादी सरकार ने गांव एवं शहर में संतुलन बनाकर प्रदेश को विकास के पथ पर आगे ले जाने का कार्य किया है

  • राज्य सरकार ने बड़े पैमाने पर सरकारी विभागों में भर्तियां कीं

  • प्रदेश के सभी शहरी और ग्रामीण इलाकों में बेहतर एवं भरपूर विद्युत आपूर्ति की जा रही है

  • समाजवादी सरकार अगले चुनाव में भी बड़े बहुमत के साथ सत्ता में वापस आएगी

  • मुख्यमंत्री का वाराणसी भ्रमण


akhileshलखनऊ, 26 अप्रैल. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि गंगा की सफाई तभी सम्भव है, जब अन्य नदियां भी साफ होंगी। समाजवादी सरकार गंगा को साफ करना चाहती है, इसलिये वाराणसी में वरुणा नदी, वृन्दावन में यमुना तथा लखनऊ में गोमती की सफाई के लिए अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वरुणा नदी तभी साफ हो सकेगी, जब नदी के किनारे के होटल, कारखानों तथा शहर के सीवर का गन्दा पानी वरुणा में जाने से पूरी तरह रोका जाएगा और नदी में छोड़ा जाने वाला पानी को ट्रीटमेंट के बाद ही छोड़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि इससे गंगा नदी को भी राहत मिलेगी। उन्होेंने कहा कि गंगा नदी को साफ करने का इरादा रखने वालों को आगे आकर राज्य सरकार की मदद करनी चाहिए।


मुख्यमंत्री आज जनपद वाराणसी के फूलपुर थाना क्षेत्र स्थित कठेरवां गांव में पूर्व सांसद तूफानी सरोज के आवास पर एक मांगलिक कार्यक्रम में शामिल होने के पश्चात् मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि वाराणसी के लिए मेट्रो परियोजना को हरी झण्डी दे दी गयी है और डीपीआर स्वीकृत कर दिया गया है। वाराणसी में मेट्रो के अलावा, तमाम बड़ी परियोजनाएं भी स्वीकृत की गयी हैं और उन पर कार्य भी युद्धस्तर पर चल रहा है।


श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार ने बड़े पैमाने पर सरकारी विभागों में भर्तियां की हैं। पुलिस में भर्ती प्रक्रिया को सरल बनाया गया है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, जिला मुख्यालयों को 4-लेन सड़कों से जोड़ना, लखनऊ सहित प्रदेश के विभिन्न महानगरों में मेट्रो रेल सेवा पर तेजी से काम, साइकिल ट्रैक का निर्माण, किसानों को मुफ्त सिंचाई सहित खाद, बीज की समय पर उपलब्धता सुनिश्चित कराना, ओलावृष्टि, बेमौसम बारिश और सूखे से प्रभावित किसानों और अन्य लोगों की बड़े पैमाने पर मदद, कृषक दुर्घटना बीमा योजना की धनराशि को बढ़ाकर 5 लाख रुपए करना, कामधेनु डेरी योजना के माध्यम से प्रदेश में दुग्ध उत्पादन को बड़ी मात्रा में बढ़ाना, डाॅ. राम मनोहर लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना तथा जनेश्वर मिश्र ग्राम योजना आदि योजनाओं के माध्यम से समाजवादी सरकार ने गांव एवं शहर में संतुलन बनाकर प्रदेश को विकास के पथ पर आगे ले जाने का कार्य किया है। समाजवादी सरकार अपनी उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच अगले चुनाव में जाएगी। उन्होंने भरोसा जताया कि समाजवादी सरकार अगले चुनाव में भी बड़े बहुमत के साथ सत्ता में वापस आएगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि वाराणसी, मथुरा एवं आगरा को पर्यटन के दृष्टि से और विकसित किया जाएगा। एक सवाल के जबाब में उन्होंने कहा कि इंकलाब तो आना चाहिए, लेकिन सवाल है कि इसे कौन लाएगा। उनका मानना है कि इंकलाब जनता को लाना चाहिये और उनके प्रति इंकलाब लाना चाहिए, जो वास्तव में गरीब और किसान के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादियों के पक्ष में इंकलाब आए, तो इससे बेहतर और क्या हो सकता है। कानून-व्यवस्था के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर है और दलितों के उत्पीड़न की घटनाएं काफी कम हुई हैं। उन्होंने कहा कि सारनाथ में 24 घण्टे विद्युत आपूर्ति के साथ ही प्रदेश के सभी शहरी और ग्रामीण इलाकों में बेहतर एवं भरपूर विद्युत आपूर्ति की जा रही है।


इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जल संसाधन राज्य मंत्री सुरेन्द्र सिंह पटेल, अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन व पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top