Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

वाराणसी में बाढ़ से स्थिति भयावह, टूट सकता है 1978 में आई बाढ़ का रिकॉर्ड

 Girish Tiwari |  2016-08-24 09:30:39.0

va 1


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
वाराणसी: 
यूपी के पूर्वांचल में इन दिनों गंगा-यमुना समेत तमाम नदियां तांडव मचा रही है। गंगा के जलस्तर में बढ़ोत्तरी होने से पूर्वांचल और तटवर्ती इलाकों में हड़कंप मच गया है। वाराणसी में गंगा ने 2013 के जलस्तर 72.63 को पार कर दिया है। लोगों के अंदर अब 1978 केे जैसे बाढ़ का डर सताने लगा है।


देसी जुगाड़, बाढ़, राहत बाढ़ग्रस्त


वाराणसी में वॉटर लेवल डेंजर लेवल (71.26) को पार कर हाईएस्‍ट लेवल (73.90) से बस एक मीटर पीछे है। 125 से ज्‍यादा गांव और रिहाइसी इलाकों में गंगा पहुंच चुकी है। 2.5 हेक्टेयर से ज्यादा फसल पानी में डूब गए हैं। शहरी ग्रामीण इलाकों को मिलाकर 5 लाख से ज्‍यादा लोग प्रभावित हैं। गंगा वर्तमान में 72.25 मीटर पर बह रही है।


vaa 2


वाराणसी में वर्ष 1978 में आई बाढ़ का उच्चतम रेकार्ड तोड़ने को उफनाती गंगा उतावली है। प्रभावित लोग अपने सामानों को समेटने में जुटे। इलाहाबाद से बलिया तक सभी स्थानों पर गंगा खतरे का निशान पार करने बाद भी लगातार गंगा के जलस्तर बढत पर है।


vaa 3


झांसी के पास से एक बाँध से आज 5 लाख क्यूसेक मीटर पानी छोड़े जाने की की खबर के साथ ही सम्बंधित जिलों के अधिकारियों की धड़कन बढ़ी हुई है, आगामी 2 से 3 दिन में उस पानी के पूर्वांचल में आगमन से पानी किस स्तर तक पहुंचेगा, यह एक यक्ष प्रश्न है।


vaa 4


बाढ़ पूर्वानुमान केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक इलाहाबाद, फाफामऊ, सीतामढ़ी, , मिर्जापुर, वाराणसी गाजीपुर और बलिया में पानी का बढ़ाव जारी है।गंगा के बढ़ते जलस्तर के कारण पानी खतरे से निशान से काफी ऊपर होने के कारण जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है, जिसकी चपेट में आने से सैकड़ों एकड़ फसल जलमग्न हो चुकी है। कई क्षेत्रों का सम्पर्क मार्ग टूट चुका है।


vaa 6


बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री न पहुंच पाने की शिकायतें भी बढ़ती जा रही हैं। राहत और बचाव दल के साथ ही एनडीआरएफ की कई टीमे अलग अलग इलाको में राहत पहुंचाने में रात् दिन लगी हुई है।


flood_pic


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top