Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अपने संसाधनों से कौशल विकास में विदेशी प्रशिक्षण दिलाने वाला यूपी देश का पहला राज्य

 Sabahat Vijeta |  2016-08-20 17:56:22.0

akh-skill




  • राज्य सरकार नौजवानों को रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर उपलब्ध कराने हर सम्भव प्रयास कर रही है: मुख्यमंत्री

  • उ.प्र. अपने संसाधनों से कौशल विकास के लिए प्रशिक्षणार्थियों को विदेश में प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध कराने वाला देश का पहला राज्य

  • मुख्यमंत्री ने फ्रांस (ग्रासे) जाने वाले प्रशिक्षणार्थियों से भेंट की

  • इत्र निर्माण के लिए कन्नौज व फ्रांस का ग्रासे शहर मशहूर समाजवादी सरकार ने कन्नौज के इत्र उद्योग को विश्वस्तरीय पहचान दिलाने का काम किया

  • मुख्यमंत्री ने उ.प्र. कौशल विकास मिशन के ब्रोशर-‘कुशलता की ओर बढ़ते कदम’, पुस्तिका ‘री एलाइनिंग स्किल्स, रीडिफाइनिंग फ्यूचर’ तथा ‘फ्रेगरेन्ट यू.पी., फरवेन्ट स्प्रिट्स’ का विमोचन किया


लखनऊ. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य सरकार नौजवानों को रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर उपलब्ध कराने हर सम्भव प्रयास कर रही है। उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन एवं व्यावसायिक शिक्षा विभाग इस दिशा में गम्भीरता से प्रयासरत है। उत्तर प्रदेश अपने संसाधनों से कौशल विकास हेतु प्रशिक्षणार्थियों को विदेश में प्रशिक्षण सुविधा उपलब्ध कराने वाला भारत का पहला राज्य है।


मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर फ्रांस के ग्रासे शहर जाने वाले प्रदेश के 12 प्रशिक्षणार्थियों से भेंट कर रहे थे। ये प्रशिक्षार्थी वहां इत्र उद्योग की नवीनतम तकनीक की जानकारी हासिल करेंगे। अपने सम्बोधन में श्री यादव ने यह भी कहा कि इत्र उद्योग भारत का एक प्राचीन उद्योग है। इत्र के निर्माण में कन्नौज जहां देश की सुगंध राजधानी के तौर पर मशहूर है, वहीं दूसरी ओर फ्रांस का ग्रासे शहर इत्र की विश्व राजधानी के रूप में विख्यात है। उन्होंने कहा कि कन्नौज के इत्र उद्योग में विश्व प्रसिद्ध आधुनिक तकनीकों को अपनाकर ही समृद्ध बनाया जा सकता है। इसके मद्देनजर यहां के नौजवानों को ट्रेनिंग के लिए ग्रासे भेजा जा रहा है। ग्लोबलाइजेशन के इस दौर में समाजवादी सरकार ने कन्नौज के इत्र उद्योग को विश्वस्तरीय पहचान दिलाने का काम शुरु किया है।


श्री यादव ने कहा कि भारत गांवों का देश है। ऐसे में कुटीर उद्योग को अपनाकर ही हम अपने राज्य की आर्थिक स्थिति को मजबूत बना सकते हैं। कन्नौज के इत्र उद्योग को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक है कि फूलों की खेती को भी बढ़ावा दिया जाए। इससे किसानों की खुशहाली के साथ-साथ कारोबारी माहौल में सुधार होगा। प्रदेश सरकार आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के पास कन्नौज के ठठियां में इण्टरनेशनल परफ्यूम म्यूजियम एवं परफ्यूम पार्क स्थापित कर रही है। इसमें मैनुफैक्चरिंग सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी।


श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन से ट्रेनिंग प्राप्त इन 12 युवक-युवतियों का यह पहला बैच ग्रासे के लिए रवाना किया जा रहा है। ये लोग वहां जाकर परफ्यूम उद्योग की आधुनिक तकनीक से परिचित हो सकेंगे, जिसका लाभ प्रदेश को मिलेगा और इन युवाओं को परफ्यूम इण्डस्ट्री में रोजगार के अच्छे अवसर भी प्राप्त होंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार नौजवानों की बेहतरी के लिए लगातार प्रयास कर रही है। कौशल विकास के क्षेत्र में की गयी पहल के लिए उत्तर प्रदेश को एसोचैम द्वारा ‘बेस्ट स्टेट इन स्किल डेवलपमेण्ट’ तथा यूनेस्को के पेरिस स्थित मुख्यालय में ‘बेस्ट स्टेट इम्पावरिंग यूथ थ्रू स्किल डेवलपमेण्ट’ पुरस्कार प्रदान किया गया।


मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के ब्रोशर-‘कुशलता की ओर बढ़ते कदम’, परिचय पुस्तिका ‘री एलाइनिंग स्किल्स, रीडिफाइनिंग फ्यूचर’ तथा ग्रासे भ्रमण से सम्बन्धित पुस्तिका-‘फ्रेगरेन्ट यू.पी., फरवेन्ट स्प्रिट्स’ का विमोचन भी किया।


इस मौके पर व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री महबूब अली ने राज्य सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार नौजवानों को हुनरमन्द बनाकर उन्हें रोजगार प्रदान करने का काम कर रही है। आज गरीब भी सपने देख रहे हैं और राज्य सरकार उन्हें साकार करने में उनका सहयोग भी कर रही है।


इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, सांसद श्रीमती डिम्पल यादव, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार आलोक रंजन, मुख्य सचिव दीपक सिंघल, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, सचिव व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास भुवनेश कुमार, कौशल विकास मिशन के निदेशक सुरेन्द्र सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top