Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

महिला जज को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी

 Tahlka News |  2016-04-26 15:34:58.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
इलाहाबाद, 26 अप्रैल. पारिवारिक न्यायालय की प्रधान न्यायाधीश कुमुदनी वर्मा को फोन पर धमकी मिली है। उन्हें वाट्सएप पर भी संदेश भेजकर परेशान किया जा रहा है। सिरफिरे युवक की करतूत से आजिज महिला जज ने इलाहाबाद के कर्नलगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है।


कुमुदनी वर्मा जिला अदालत इलाहाबाद से पहले कानपुर नगर की पारिवारिक न्यायालय में तैनात थीं। वहां कई मुकदमों का निस्तारण सुलह-समझौते के आधार पर लोक अदालत में हुआ था। न्यायिक अधिकारी का आरोप है कि बीते माह के अंतिम सप्ताह उनके पास 9561065140 नंबर से कॉल आई। कॉल करने वाले ने अपना नाम गौरव निगम बताया। उसने अपनी पत्नी के साथ चल रहे विवाद में किसी अधिकारी के कहने पर सुलह कराने की बात कहते हुए नाराजगी जताई और कहा कि वह इसकी शिकायत हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में करेगा। कुमुदनी ने इसकी जानकारी जिला जज को दी। साथ ही कॉल करने वाले का मोबाइल नंबर ब्लॉक कर दिया। इसके बाद भी गौरव उनके वाट्सएप पर मैसेज भेजने लगा। इंस्पेक्टर कर्नलगंज समीर सिंह के मुताबिक धमकी देने वाला शख्स संभवत: कानपुर का रहने वाला है। उसके बारे में और जानकारी जुटाई जा रही है।


दो और जजों मिल चुकी धमकी
कुमुदनी वर्मा से पहले भी जिला अदालत में पदस्थ दो जजों को धमकी मिल चुकी है। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट स्वेता वर्मा को मुकदमे के सिलसिले में धमकी दी गई थी। बीते साल न्यायिक मजिस्ट्रेट ज्ञानेन्द्र त्रिपाठी को पत्र लिखकर एक आतंकी के मामले में जान से मारने और पूरे परिवार को खत्म करने के लिए धमकाया गया था। पुलिस ने दोनों ही मामले दर्ज किए थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top