Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी में ई-सुविधा से घर बैठे होगा हर काम

 Tahlka News |  2016-03-26 11:17:32.0

download (1)


तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ, 26 मार्च. देश के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश में बिना लाइन के बैंकों से लेकर पोस्ट ऑफिस, पासपोर्ट, परिवहन, टिकट काउंटर से छुटकारा मिलना मुश्किल लगता था, पर अब ऐसा नहीं है, यूपी में अब किसी को कहीं भी लंबी लाइन में लगकर अपना काम करने की परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी।


आम आदमी की रोजमर्रा जरूरतों में आने वाली विभ‍िन्न सेवाओं के लिए भी ऑनलाइन प्रणाली को अमल में लाया जा रहा है। अब अपने वाहन के टैक्स व बीमा भी ई-सुविधा केन्द्रों से रोड टैक्स व वाणिज्यिक वाहनों के कर जमा करना आसान हो जाएगा।


ये सुविधाएं सीएम अखिलेश यादव की ई-सुविधा से संभव होने जा रहा है। अब घर बैठे या फिर ई-सुविधा केन्द्रों से भी लर्निग ड्राइविंग लाइसेंस के लिए के लिए आवेदन किया जा सकेगा। आवेदन लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदकों को अब भागदौड़ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जल्द ही वाहन चालकों को लर्निग लाइसेन्स के आवेदन पत्र, ई-सुविधा केन्द्रों से ऑनलाइन जमा किया जा सकेगा।


आवेदकों को इस सेवा के बदले ई-सुविधा केन्द्र वाहन चालक से केवल 20 रुपए सर्विस चार्ज करेंगे। परिवहन विभाग ने लर्निग लाइसेंस का आवेदन पत्र भेजने का अधिकार ई-सुविधा केन्द्रों को देने का प्रस्ताव बनाकर सरकार के पास भेज दिया है। वहां से जैसे ही इसकी मंजूरी मिलेगी उसके बाद अगले महीने से वाहन चालकों को यह सुविधा मिल सकती है।


इस सुविधा की शुरूआत लखनऊ से की जानी है। पहले चरण में राजधानी के लोगों को यहां स्थित 60 केन्द्रों में से 15 सुविधा केन्द्रों में यह व्यवस्था मिलेगी। उसके बाद यह सुविधा लखनऊ के सभी केन्द्र और प्रदेश के 17 अन्य जिलों में भी लागू कर दी जाएगी। लर्निग लाइसेन्स की फीस 60 रुपए परिवहन विभाग के खाते में जमा करने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया में अपना खाता खोलना पड़ेगा।



बिजली बिल के अलावा बैंकों से ट्रांजेक्शन की ई सुव‍िधा मिलने लगी है। अब हाउस टैक्स व वॉटर टैक्स भी घर बैठे अदा किया जा सकेगा। यही नहीं अगर आप का ड्राइविंग लाइसेंस खो गया है तो डुप्लीकेट पंजीयन प्रमाणपत्र, पते का परिवर्तन और हाइपोथिकेशन जैसी सुव‍िधाएं भी परिवहन विभाग में ऑनलाइन मिल सकेगी।

  Similar Posts

Share it
Top