Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

चुनाव आयोग ने लगाया वीटो, खतरे में पड़ी सुभाष चंद्रा की RS सीट

 Tahlka News |  2016-06-18 07:03:16.0

subhash zee
तहलका न्यूज़ ब्यूरो

नई दिल्ली . भारत के संसदीय इतिहास में संभवतः पहली बार राज्य सभा चुनावो के घोषित नतीजो को चुनाव आयोग वापस ले लिया है . इन नतीजो के अनुसार हरियाणा से राज्य सभा की एक सीट पर मीडिया टाईकून सुभाष चंद्रा को विजयी घोषित कर दिया गया था.

अब निर्वाचन आयोग ने हरियाणा के चुनाव अधिकारी द्वारा 11 जून को की गई उस घोषणा को वापिस ले लिया है, जिसमें जी टी.वी. नैटवर्क के मालिक सुभाष चंद्रा को विजयी घोषित कर दिया गया था.


भाजपा समर्थित निर्दलीय सुभाष चंद्रा के चुने जाने पर इनैलो समर्थित उम्मीदवार व जाने-माने वकील आर.के. आनंद की अपील पर निर्वाचन आयोग ने सोमवार को कहा था कि यदि इस चुनाव में किसी भी तरह की अनियमितता पाई जाएगी तो चुनाव निरस्त कर दिया जाएगा. आनंद ने आरोप लगाया था कि भाजपा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा को जिताने के लिए पूरी साजिश रची गई है.

सूत्रों का कहना है कि पराजित उम्मीदवार आनंद की शिकायत पर आयोग ने आरंभिक जांच में यह मान लिया है कि वहां की सीट पर चुनाव प्रक्रिया में पैन और स्याही बदले जाने के पीछे जान-बूझ कर गड़बड़ी की गई है.

चंडीगढ़ में राज्य चुनाव अधिकारी ने कांग्रेस विधायकों के 14 वोट इस आधार पर निरस्त कर दिए थे क्योंकि उनमें मतदान पत्र पर मार्क करने के लिए अलग-अलग स्याही का इस्तेमाल होना पाया गया था. हरियाणा राज्य चुनाव अधिकारी जो कि हरियाणा विधानसभा के भी सचिव हैं, ने अपने हस्ताक्षर से जो आधिकारिक चुनाव परिणाम घोषित किया उसमें मात्र चौधरी बीरेंद्र सिंह को ही 2534 मतों से विजयी घोषित किया गया है.

हरियाणा के चुनाव अधिकारी आर.के. नांदेल ने जो ताजा परिणाम निर्वाचन आयोग की वैबसाइट पर डाले हैं उनके हिसाब से आनंद व सुभाष चंद्रा के बीच चुनाव परिणाम की घोषणा को स्थगित कर दिया गया है. आयोग की वैबसाइट में नांदेल के नए फैसले को बाकायदा ‘हाइलाइटर’ लगाकर रखा गया है ताकि उसमें कोई छेड़छाड़ न की जा सके.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top