Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भाजपा के घोषणापत्र को मायावती ने बताया झूठ का पुलिंदा

 shabahat |  2017-01-28 11:53:30.0

भाजपा के घोषणापत्र को मायावती ने बताया झूठ का पुलिंदा


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी के घोषणापत्र को बसपा सुप्रीमो मायावती ने झूठ का पुलिंदा करार दिया है. मायावती ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी ने किसानों, बेरोजगारों सभी से तमाम वादे किये था. नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि केन्द्र में सरकार बनने के अगले ही दिन विदेशों में जमा काला धन वापस लाकर भारत के सभी गरीबों को 15 से 20 लाख रुपये दिए जायेंगे.

अब तो केन्द्र में सरकार बने हुए पौने तीन साल बीत चुके हैं. इन पौने तीन सालों में नरेन्द्र मोदी सरकार ने किस्म-किस्म के नाटक किये हैं. कभी सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर, कभी परिवर्तन यात्रा के नाम पर लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश की है. सरकार ने बगैर तैयारी के 500 और 1000 के नोटों को बंद कर देश के आम लोगों को परेशान कर दिया.

मायावती ने कहा कि भाजपा का घोषणा पत्र लोगों को धोखा देने और गुमराह करने वाला है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता भाजपा के झूठे वादों के प्रलोभन में आने वाली नहीं है. उन्होंने कहा कि जनता को इनसे होशियार रहना चाहिए. वर्ना बाद में उनके सामने वही परेशानी आयेगी कि अब पछतावे होत क्या जब चिड़िया चुग गई खेत.

मायावती ने कहा कि केन्द्र सरकार के दलित विरोधी कामों को जनता कभी भूल नहीं पायेगी. जनता न तो रोहित वेमुला काण्ड को भूलेगी और न ही दयाशंकर प्रकरण को. उत्तर प्रदेश की जनता दादरी काण्ड और मुज़फ्फरनगर काण्ड को कभी भूल नहीं सकती है. उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि यूपी सरकार ने अल्पसंख्यकों के साथ न्याय नहीं किया.

केन्द्र सरकार पर ललित मोदी और विजय माल्या को प्रश्रय देने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को बसपा पर आरोप लगाने से पहले अपने दामन पर लगे दागों को ज़रूर देख लेना चाहिये. मायावती ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष जिस मानसिकता के हैं उसी मानसिकता के लोगों को आगे बढ़ाने में मदद कर रहे हैं.

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि भाजपा की प्रांतीय सरकारें भी अल्पसंख्यकों और दलितों के साथ न्याय नहीं करती हैं. केन्द्र सरकार के पौने तीन साल जनता को निराश करने वाले साल हैं. उन्होंने कहा कि लोग भाजपा को अच्छी तरह से पहचान चुके हैं. इसी वजह से इनका घोषणा पत्र अब इनके किसी काम आने वाला नहीं है. उन्होंने कहा कि झूठे घोषणा पत्र के ज़रिये भाजपा सत्ता में तो आ जाती है लेकिन इन वादों को रद्दी की टोकरी में डाल देती हैं. भाजपा के प्रति अब जनता का विशवास पूरी तरह से समाप्त हो चूका है.

मायावती ने कहा कि बसपा घोषणापत्र जारी किये बगैर ही जन अपेक्षा के अनुसार काम करती है और जनता की भलाई के लिए काम करती है. बसपा ने अपनी इस नीति को बरक़रार रखा है. जनता के बीच ज़बरदस्त काम करती है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी जो भी कहती है उसे करके भी दिखाती है. उन्होंने कहा कि पहली फरवरी से हम अपनी चुनावी सभाएं शुरू करेंगी. इन सभाओं में जितनी बातें भी वह जनता से करेंगी उन्हें सरकार बनाने पर पूरा करेंगी.

मायावती ने कहा कि समाजवादी पार्टी के वादे भी भाजपा की तरह ही झूठे वादे हैं. उन्होंने कहा कि सपा तो पांच साल सरकार में रही है फिर उसे वादे करने की क्या ज़रुरत है. वह तो अपनी सरकार में यह काम करके खुद ही दिखा सकती है. मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता सपा सरकार को वोट देकर एक बार धोखा खा चुकी है, अब वह दोबारा धोखा खाने वाली नहीं है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top