Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इंसान एक, ब्लड ग्रुप दो, डॉक्टर डाइलेमा में, कौन सा चढ़ाएं

 Anurag Tiwari |  2016-11-28 07:23:00.0

Dhmatari, blood group, AB Negative, A Positive, Government Hospital, Masihi Hospital




तहलका न्यूज ब्यूरो



धमतरी. जिले के एक गांव से जब एक पेशेंट जिला अस्पताल पहुंचा तो डॉक्टरों के होश फाख्ता हो गए. इस पेशेंट की ब्लड रिपोर्ट में उसका ब्लड ग्रुप अलग-अलग बताया गया.



जहां सरकारी जिला अस्पताल की रिपोर्ट में ए पॉजीटिव बताया गया तो वहीं मसीही हॉस्पिटल में उसका ब्लड ग्रुप में एबी निगेटिव बताया गया. अब डॉक्टर्स के सामने समस्या है कि वह पेशेंट को कौन सा ब्लड ग्रुप चढ़ाएं.



मामला धमतरी हेडक्वार्टर से 5 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत सोरम का है. इस गाँव के रहने वाले नारायण साहू पेशे से शिक्षाकर्मी हैं. नारायण साहू एनीमिया से ग्रस्त हैं . इलाज के लिए जब उन्होंने 25 नवंबर को जिला अस्पताल में ब्लड की जांच करवाई तो रिपोर्ट में उसका ब्लड ग्रुप ए पॉजीटिव पाया गया. इसके अगले दिन नारायण 26 नवंबर शनिवार को मसीही अस्पताल में भर्ती हुआ और वहां पर जांच में उसका ब्लड ग्रुप एबी निगेटिव पाया गया.



नारायाण के परिजनों के सामने अब यह समस्या है कि वे जिला अस्पताल या मसीही अस्पताल की रिपोर्ट को सही मानें. डॉक्टर भी नहीं समझ पा रहे कि मरीज को कौन से ग्रुप का ब्लड शरीर में चढ़ाया जाए. नारायण के परिजनों ने अस्पताल और पैथालॉजी से मिली अलग-अलग ब्लड रिपोर्ट को गंभीरता को देखते हुए जांच की मांग की है. उन्होंने जांच में गड़बड़ी करने वाले अस्पताल या पैथालॉजी लैब के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग भी की है.



वहीं जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. बीके साहू ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए कहा है कि ब्लड ग्रुप में गड़बड़ी है, तो मरीज तत्काल सरकारी अस्पताल पहुंचकर शिकायत करें। एक बार फिर से जांच की जाएगी. उन्होंने कहा यह संभव ही नहीं कि एक व्यक्ति के दो ब्लड ग्रुप हों.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top