Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दवा व्यापारी 24 नवम्बर तक स्वीकारें 500 और 1000 के नोट

 Sabahat Vijeta |  2016-11-18 17:15:39.0

sandeep-bansal


तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप बंसल ने आज लखनऊ में राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में कहा कि 500 और 1000 के नोट बंद किये जाने की वजह से व्यापार ठप्प हो गया है. उत्पादन बहुत गिर गया है. बिक्री न के बराबर रह गई है. इसकी वजह से पल्लेदारों, परिवहन व्यवसायी और उद्योग से जुड़े कर्मचारियों के सामने रोटी की समस्या खड़ी हो गई है.


संदीप बंसल ने आज एलान किया कि सरकार को जगाने के लिए 20 नवम्बर को जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा पर धरना देकर सरकार को चेताएंगे. उन्होंने कहा कि बड़े नोट बंद होने से सारी व्यवस्था चौपट हो गई है. उन्होंने सरकार से मांग की कि बैंकों में व्यापारियों के लिए अलग काउंटर की वयवस्था की जाये. व्यापारियों के लिए 50 हज़ार रूपये हफ्ते की निकासी की लिमिट बढ़ाकर तीन लाख की जाए.


संदीप बंसल ने दवा व्यापारियों का आह्वान किया कि वह 24 नवम्बर तक 500 और 1000 के नोट स्वीकार करें. ग्रामीण इलाकों में सहकारी बैंकों से नोट बदलने का काम ले लेने के बाद सरकार वहां मोबाइल वैन भेजने की व्यवस्था करे. उन्होंने पेट्रोल पम्पों पर भी नए नोट पहुंचवाने की व्यवस्था करने को कहा. उन्होंने बताया कि इस सन्दर्भ में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात हुई थी और मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया था कि वह व्यापारियों पर दबाव न बनाएं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top