"चुनावी चुटकी " अजय श्री की

 2017-02-16 11:58:07.0

"चुनावी चुटकी " अजय श्री की

युवा साहित्यकार अजय श्री ने चुनावी माहौल में तहलका न्यूज के पाठको के लिए पेश की है चुनावी चुटकी 

1
राजनीति के चौसर पर सजी हुई बिसात,
कल तक जिसको फुर्सत न थी आज कर रहे बात,

सौगातो से भरे हुए हैं इनके सब अरमान,
गली-गली में घुम रहे भेष बदल के कर के ध्यान,

मौका परस्त बहुत मिलेंगे रखना इसका ध्यान,
धर्म-जाति और भेदभाव से ऊपर है मतदान,

अट्टारह से ऊपर जितने मत उनका अधिकार,
सब मिल कर जब वोट करें तो बने सफल सरकार।
 
भर-भर वादों की थैली
फिर से है तैयार ,
जो कल तक थे दुश्मन
अब गलबहियां यार ,

जाती-धर्म और भेद-भाव के
शोसे हुए बेकार ,
फतवा और मठाधीशों का ,
निकल पड़ा व्यापार ,

कभी नहीं तुम करना उससे
कोई भी इकरार ,
जिसको कुर्सी प्यारी है
नहीं देश से प्यार ,

वोट हमारा उसको यारो ,
जो दे सबको प्यार ,
सोच-समझ के तुम करना
अपने मत का वार ,

नहीं खेल  कोई मतदान
ये अपना अधिकार  ,
हिन्दू ,मुस्लिम ,सिख ,इसाई
सबका है त्यौहार ||

Tags:    
loading...
loading...

  Similar Posts

Share it
Top