Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में दिव्यांग महिला हुई बेघर

 Tahlka News |  2016-04-14 16:49:28.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
वाराणसी, 14 अप्रैल. समाजवादी सरकार में दबंगों का राज है। ऐसा ही एक मामला वाराणसी में देखने को मिला। यहां कुछ दबंगों ने एक दिव्यांग महिला के घर पर जबरन कब्जा कर लिया है और घर की असली मालकिन को बेघर कर दिया है। मामले की शि‍कायत जब पुलिस से की गई तो कोई कार्रवाई नहीं हुई बल्कि जान बचाने के लिए चुप रहने की धमकी भी दी गई। ऐसे में अब दिव्यांग महिला के सिर से छत हट गई है और वो न्याय पाने के लिए दर-दर भटक रही है।


मामला काशी के थाना दशास्वमेध इलाके के विश्वनाथ गली मकान नंबर डी 10/21 का है। यहां एक पीडि़त दिव्यांग महिला रजनी अवस्थी का आरोप है कि दशास्वमेध थाने की पुलिस के सहारे इनका कमरा फर्जी तरीके से अपना मालिकाना हक़ दिखाकर जबरदस्ती कब्जा कर लिया गया है। जबकि मकान नंबर डी 10/21
के मकान मालिक अवस्थी परिवार है। लेकिन 10/22 में रहने वाले अनीता टण्डन और सुशील टंडन अपना फर्जी तरीके से मालिकाना हक़ दिखाकर प्रशासन को गुमराह करके फर्जी तरीके से एक पीडीत विकलांग महिला रजनी अवस्थी को पुलिस द्वारा बेघर कर दिया गया।


पीड़ित विकलांग महिला की भाभी मंजू अवस्थी ने वाराणसी के आई जोन एस के भगत को अपनी न्याय की गुहार लगाई है। लेकिन उस पर न्याय को ताख पर रख दिया गया जबकि मामला वाराणसी के न्यायालय में मुकदमा विचाराधीन है। जब ऐसे रक्षक के रूप में जनता की सेवा करने वाले प्रशासन खुद भक्षक बन जाए तो क्या हाल होगा पीड़ित विकलांग महिला राजनी अवस्थी का।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top