Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दयाशंकर की पत्नी बोलीं- मेरी बेटी डिप्रेशन में है, साथ खड़ा हो पूरा देश

 Girish Tiwari |  2016-07-22 05:24:42.0

dc-Cover-75adh544aea9a4q1vls2hrh7e2-20160722102159.Medi


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ: मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले और बीजेपी से निष्कासित दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने कहा है कि उनके परिवार को खतरा है। साथ ही स्वाति सिंह ने मायावती और सतीश मिश्रा के इशारे पर लखनऊ में उपद्रव कराने का आरोप लगाते हुए करारा निशाना साधा है। स्वाति सिंह ने कहा है कि मायावती और सतीश चंद्र मिश्रा बताएं कि मैं कहां अपनी बेटी को पेश करूं। आखिर उनके इशारे पर ही तो बसपाइयों ने चौराहे पर नारे लगाए। दोनों नेता बताएं कि महिला सम्मान की रक्षा के लिए हमारी बेटी के साथ क्या सलूक करेंगे।


नारों पर करूंगी कानूनी कार्रवाई
स्वाति सिंह ने कहा कि लखनऊ में हजरतगंज चौराहे पर बेटी को लेकर लगाए गए अभद्र नारे से उनका मानसिक उत्पीड़न हुआ है। यह पूरा प्रदर्शन मायावती और सतीश मिश्रा के इशारे पर बसपाईयों ने किया है। पति के खिलाफ मायावती पर गलत कमेंट कहने पर जो कानूनी कार्रवाई होगी वह उन्हें मंजूर है। मगर हजरतगंज चौराहे पर बेटी को लेकर जो अपशब्द बोले गए हैं, उस पर बसपा के नेता कानूनी कार्रवाई झेलने के लिए तैयार रहें।  स्‍वाती आज 1 बजे हजरतगंज थाने  में जाकर एफआईआर दर्ज कराएंगी।


बेटी डिप्रेशन में है
दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह ने मायावती से पूछा है कि उनके पति ने गलती की है तो कानून उन्हें सजा देगा लेकिन जो उनके परिवार और उनकी बेटियों को लेकर जो भद्दी टिप्पणियां की जा रही हैं, उनका जवाब कौन देगा?  स्वाति ने कहा कि इस तरह की भद्दी टिप्पणियों से उनकी बेटियां बेहद डर गई हैं। उनके परिवार को भी खतरा है। स्‍वाती ने कहा कि मेरी बेटी डिप्रेशन में है। मेरी बेटी के साथ पूरा देश खड़ा़ हो। दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह ने कहा कि लखनऊ में बसपाईयों ने जिस तरह से शर्मनाक नारे लगाए। उससे स्कूल में पढ़ने वाली बेटी सदमे में है। वह दवा खाकर बार-बार सो रही है। कह रही है कि वह अब स्कूल नहीं जाएगी। आखिर बसपाई यह कैसी महिला हितों की लड़ाई लड़ रहे।


मायावती से स्वाति सिंह के कुछ सवाल
मायावती खुद एक महिला हैं। पति ने उन पर गलत शब्दों का इस्तेमाल किया तो कानून उनके खिलाफ कार्रवाई करेगा। उनकी बेटी को लेकर जो अभद्र टिप्पणियों हजरतगंज चौराहे पर की गईं, उसका जवाब कौन देगा। स्वाति ने कहा कि गलत शब्द तो उनके पति ने बोला था न कि मेरी बेटी ने। तो फिर चौराहे पर बड़े नेताओं के इशारे पर बसपाई नारे लगा रहे-दयाशंकर की बेटी को पेश करो…यह क्या है। महिला सम्मान की लड़ाई लड़ने वालीं मायावती, सतीश मिश्रा और बाकी नेता बताएं कि अपनी बेटी को कहां पेश करूं। क्या सलूक करना चाहते हैं। भला सोचिए, मायावती को जिस टिप्पणी पर तीखा एतराज है। जिसे महिला विरोधी बताती हैं और संसद में उसी टिप्पणी को कह रहीं हैं कि दयाशंकर अपनी बहू-बेटियों के लिए बोला होगा। तो यह है मायावती की नजर में महिला सम्मान।


  Similar Posts

Share it
Top