Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दिल्ली-कानपुर हाईवे पर डकैतों ने मां-बेटी से किया रेप, वारदात से DGP हैरान

 Abhishek Tripathi |  2016-07-31 02:06:37.0

delhi_kanpurतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. यूपी के बुलंदशहर में दिल्ली-कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बंधक बनाकर मां-बेटी से गैंगरेप और लूटपाट करने के आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। मामले में कोतवाली देहात के SHO को सस्पेंड कर दिया गया है। बदमाशों को पकड़ने के लिए पांच पुलिस टीम बनाई गई है, लेकिन 48 घंटे बीत जाने के बाद भी आरोपी पुलिस की पहुंच से दूर हैं।


अभी तक का अपडेट
मां-बेटी के साथ रेप के मामले में पुलिस ने अभी तक 15 लोगों को हिरासत में लिया है। यूपी डीजीपी जावीद अहमद ने कहा है कि ये वारदात बहुत संगीन है और अपराधियों को जल्द ही पकड़ा जाएगा। सभी संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। बता दें कि एडीजी (एलओ) दलजीत चौधरी बुलंदशहर के लिए रवाना हो चुके हैं।

कार में थीं 3 महिलाएं और 3 आदमी
दरअसल, नोएडा से शाहजहांपुर कार से जा रहे एक परिवार को कोतवाली देहात इलाके के पास दोस्तपुर गांव में 10-12 बदमाशों ने रोका। हथियारों के बल पर कार में सवार परिवार से डकैती और गैंगरेप की वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। वारदात को अंजाम देने वाले लुटेरों की संख्या करीब 12 थी। ये बदमाश हाईवे से करीब 50 मीटर दूर खेतों में कार समेत पूरे परिवार को ले गए और उन्हें बंधक बनाकर उनके पास मौजूद नकदी, लाखों रुपए का सामान और महिलाओं के जेवर लूट लिए। कार में तीन महिलाएं और तीन पुरूष मौजूद थे। बदमाशों से किसी तरह जान बचाने के बाद पीड़ित परिवार ने कोतवाली देहात पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। मौके पर पहुंचे एसएसपी और डीआईजी मेरठ ने घटनास्थल का दौरा किया। पीड़ित परिवार की शिकायत दर्ज कर गैंगरेप पीड़ित महिलाओं का मेडिकल कराया गया।


घुमंतू आदिवासी जाति का हो सकता है गैंग
पुलिस सूत्रों की मानें तो वारदात को अंजाम देने वाला गैंग घुमंतू आदिवासी जाति का हो सकता है। इस मामले में यूपी एसटीएफ की मदद ली जा रही है। यूपी एसटीएफ की टीम बुलंदशहर पहुंच चुकी है और आला अधिकारियों से साथ बैठक हुई। एसएसपी ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम भेज दी है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top