Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

लखनऊ और गोरखपुर में निकली कांग्रेस यात्रा 27 साल यूपी बेहाल

 Sabahat Vijeta |  2016-08-30 17:35:32.0

sheela


लखनऊ. उ.प्र. कांग्रेस द्वारा चलायी जा रही ‘‘27साल यूपी बेहाल’’ यात्रा के दूसरे चरण की दो यात्राओं के 21अगस्त से 9 अक्टूबर को प्रदेश के विभिन्न जनपदों में व्यापक जनसम्पर्क कार्यक्रम के तहत आज 30 अगस्त से 31 अगस्त तक चलने वाली दोनों यात्राएं क्रमशः पहली यात्रा लखनऊ से (चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट अमौसी) से मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित के नेतृत्व में एवं दूसरी यात्रा गोरखपुर के शहीद गुरू चौराहे से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर सांसद के नेतृत्व में शुरू हुई।


इस यात्रा के तहत आज पहली यात्रा में उ.प्र. में मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित, प्रचार अभियान समिति के चेयरमैन डॉ. संजय सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा. रीता बहुगुणा जोशी, पूर्व सांसद जफर अली नकवी, प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक भगवती प्रसाद चौधरी एवं उपाध्यक्ष गणेश शंकर पाण्डेय शामिल रहे।


raj babbar


इसी प्रकार यात्रा नम्बर 2 में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर सांसद, समन्वय समिति के चेयरमैन एवं सांसद प्रमोद तिवारी, अनुसूचित आयोग के चेयरमैन एवं सांसद पी.एल. पुनिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजाराम पाल, पूर्व सांसद डा. संतोष सिंह, पूर्व सांसद लालचन्द निषाद, पूर्व सांसद कमल किशोर कमाण्डो शामिल रहे।


पहली यात्रा मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित के नेतृत्व में लखनऊ एयरपोर्ट से आरम्भ होकर यात्रा का एयरपोर्ट मोड़ पर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गौरव चौधरी के नेतृत्व में कोणार्क दीक्षित, शहीद पथ तिराहे पर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बोधलाल शुक्ला एडवोकेट, संजय सिंह एवं ललिता शर्मा, ओ.पी.चौधरी डेन्टल कालेज के सामने विजय प्रताप सिंह, पीजीआई के सामने सुनील दुबे एडवोकेट, सुबोध श्रीवास्तव आदि वरिष्ठ नेताओं द्वारा स्थान-स्थान पर भव्य स्वागत किया गया। इसके उपरान्त यात्रा मोहनलालगंज पहुंचीं, जहां कालूबीर मंदिर पर नरेश बाल्मीकि, श्रीमती सुनीता रावत, सलमान कादिर, होरी लाल, संजय पण्डित आदि ने अपने साथियों के साथ स्वागत किया एवं नवजीवन इण्टर कालेज के पास अनुसूचित जाति विभाग की मीडिया प्रभारी श्रीमती सिद्धिश्री के नेतृत्व में विषम सिंह, होरी लाल, हीरालाल शास्त्री आदि सैंकडो़ं लोगों द्वारा स्वागत किया गया। इसके उपरान्त यात्रा रायबरेली के लिए रवाना हुई एवं लखनऊ-रायबरेली सीमा चुरूवा पर स्थित मंदिर पर सभी यात्रियों ने दर्शन किया। इसके उपरान्त हजारों की संख्या में मोटर साइकिल रैली के साथ यात्रा बछरावां चौराहा, कुंन्दनगंज, हरचंदपुर, गंगागंज होते हुए सोरा, पिठला होते हुए रायपुर, जहानाबाद पुलिस चौकी, कहारों के अड्डे होते हुए बस स्टैण्ड चौराहे पर पहुंची, जहां रिफार्म क्लब में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया गया। रास्ते में उक्त सभी स्थानों पर हजारों की संख्या में कांग्रेसजनों एवं स्थानीय जनता ने फूल मालाओं से यात्रियों का जबर्दस्त स्वागत किया।


रिफार्म क्लब में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए उ.प्र. की मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित ने कहा कि रायबरेली में जिस प्रकार कांग्रेसजन एवं आम जनता उत्साहित हैं एवं जिस प्रकार भीड़ उमड़ी और ऐतिहासिक स्वागत किया गया है उसे वह कभी नहीं भूलेंगी। उन्होने कहा कि इससे आज यह विश्वास पैदा हुआ है और कांग्रेस पार्टी पर एक जिम्मेदारी आ गयी है कि प्रदेश की जनता कांग्रेस को फिर से याद कर रही है। उन्होने कहाकि पिछले 27 वर्षों से प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में नहीं है। जो प्रदेश कभी विकास में ऊपर था आज नीचे से पांचवें स्थान पर पहुँच गया है। उ.प्र. के निवासी यूपी का होने के लिए गर्व करते थे किन्तु आज गैर कांग्रेसी सरकारों ने ऐसी स्थिति पैदा कर दी है कि कोई देखना पसंद नहीं कर रहा है, विकास के नाम पर सिर्फ बलात्कार और भ्रष्टाचार बढ़ा है। आज प्रदेश में महिलाएं और आम जनता असुरक्षित नहीं हैं। बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि होने से यहां के युवाओं को अन्य प्रदेशों में जाना पड़ रहा है। उन्होने कहा कि वह चाहती हैं कि प्रदेश के सभी कांग्रेसजन एकजुट होकर कार्य करें, जिससे प्रदेश में इतनी सीटें कांग्रेस को मिलें कि दूसरों को एक भी सीट न मिले। उन्होने कहा कि रायबरेली का संदेश पूरे प्रदेश में जायेगा। उन्होने राष्ट्रीय सचिव के.एल. शर्मा एवं सुश्री अदिति सिंह को बधाई दी।


डॉ. संजय सिंह ने कहा कि रायबरेली आने के बाद यह नहीं पता चलता कि वह विपक्ष में हैं। रायबरेली आजादी के पहले और आजादी के बाद प्रेरणा की धरती है। उन्होने कहा कि भ्रष्टाचार चारों तरफ फैला है किन्तु वर्तमान प्रदेश सरकार ने जनता को जो अधिकार संविधान में मिला है उसे भी छीन रही है। पंचायत चुनावों में जिस प्रकार अपने प्रत्याशी को निर्विरोध जिताया गया उससे जनता को संविधान में मिले निर्वाचन का अधिकारों का हनन किया गया है।


पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा कि वह समझते थे कि कानपुर में यात्रा का जो स्वागत किया गया है वह पूरे प्रदेश में नम्बर एक पर हैं किन्तु रायबरेली में जिस प्रकार ऐतिहासिक स्वागत हुआ है उससे कानपुर की यात्रा भी पीछे हो गयी। उन्होने कहा कि प्रदेश में टैक्सेशन की जो प्रणाली है उससे हर व्यापारी त्रस्त है। कानून व्यवस्था इस कदर ध्वस्त है कि प्रदेश में कोई उद्योग लगाने के लिए तैयार नहीं हो रहा है। उन्होने कहा कि जिन्होने वादा किया था 15-15 लाख खातों में पहुंचाने के लिए उनके वादे सिर्फ झूठे साबित हुए, किसानों ने सोचा कि 15 नहीं तो 5 या 2 लाख तो आयेंगे ही लेकिन वह पैसे तो नहीं आये उल्टे ओलावृष्टि का मुआवजा किसानों को अभी तक नहीं मिल पाया।


पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि पूर्वांचल सहित बुन्देलखण्ड का किसान बेहाल है। बुनकर परेशान है। महिलाओं के साथ उत्पीड़न बेतहाशा बढ़ा है। कानून व्यवस्था इस कदर खराब हो गयी है कि हालत यह है कि महिलाओं में असुरक्षा की भावना व्याप्त हो गयी है कि मुख्यमंत्री के गृह जनपद इटावा में लड़कियों ने स्कूल का बहिष्कार कर दिया है।


पूर्व सांसद जफर अली नकवी ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि 18प्रतिशत मुसलमानों को आरक्षण और 100 मदरसे खोले जाने का वादा सिर्फ वादा रह गया । उन्होने कहा कि सपा ने मुसलमानों को सिर्फ धोखा दिया है।


वरिष्ठ उपाध्यक्ष भगवती प्रसाद चौधरी ने कहा कि डॉ. राम मनोहर लोहिया के नाम पर जो लोग दुकान चला रहे हैं यदि लोहिया जी जिन्दा होते तो सैफई जाकर आत्महत्या कर लेते। लोहिया के आदर्शों की दुहाई देने वाले लोहिया जी के आदर्शों के विरूद्ध आचरण कर रहे हैं। इसके उपरान्त यात्रा रायबरेली से प्रतापगढ़ के लिए रवाना हुई।


दूसरी यात्रा अपने रूट के तहत जनपद गोरखपुर के शहीद गुरू चौराहे से शुरू होकर मोहद्दीपुर, कूड़ाघाट होते हुए इन्जीनियरिंग कालेज, कड़जहां, कुसुम्ही, खोराबार, नहर रोड होते हुए मोतीराम अड्डा से दरगाह होते हुए ककुलहा देवी स्थान से चौरीचौरा, मझना नाला, देवरिया रोड, गौरीबाजार होते हुए देवरिया पहुंची। रास्ते में उपरोक्त सभी स्थानों पर यात्रा का हजारों कांग्रेसजनों द्वारा भव्य स्वागत किया गया।


देवरिया पहुंचने पर आयोजित जनसभा में मौजूद हजारों की संख्या में कांग्रेस एवं स्थानीय जनता को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा कि कांग्रेस की इस यात्रा से लोगो में गजब का उत्साह है। लखनऊ में राहुल जी के कार्यक्रम में 70 हजार रजिस्टर्ड कार्यकर्ता उत्साह के साथ उपस्थित रहे। सोनिया जी की बनारस की यात्रा में जो जन सैलाब उमड़ा वह किसी जाति-धर्म, मजहब, सम्प्रदाय के लोग नही थे, बल्कि कांग्रेस के सुशासन को पसन्द करने वाले लोग थे। उन्होने कहाकि गोरखपुर में पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीर बहादुर सिंह ने रामगढ़ ताल और गोरखपुर के गीडा, खलीलाबाद की इंडस्ट्रियल एरिया के विकास से गन्ना मिलों की क्षमता बढ़ाकर किसानों को समृद्ध बनाने का कार्य किया। बुनकरों को बिजली उपलब्ध करवाकर व नई सूती मिलो को लगाकर उन्होने पूर्वांचल के विकास का जो सपना देखा था वह पिछले 27 सालो में गैर कांग्रेस सरकारों ने तहस नहस कर दिया है। उन्होने कहा कि इन विकास की विरोधी गैर कांग्रेस सरकारों ने पिछले 27 सालो में सबसे अधिक मंत्री इसी क्षेत्र से बनाया लेकिन विकास का कोई काम यहाँ नही हुआ। इसका मतलब यह है कि सपा, बसपा और भाजपा को इस क्षेत्र से सिर्फ वोट लेना ही लक्ष्य था। श्री बब्बर ने कहा कि हमारा लक्ष्य नोजवानों को रोजगार, किसानों को खाद, बिजली, पानी, पैदावार बढ़ाने के संसाधन उपलब्ध कराना, समुचित चिकित्सा, शिक्षा, बाढ़ एवं सूखा से निजात दिलाने का काम करना है। शीला जी को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने के लिए और जनता को विकास और सुरक्षा प्रदान करने के लिए आपको कांग्रेस की सरकार इस बार बनानी है।


इस मौैके पर प्रमोद तिवारी जी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का विकास से कोई लेना देना नही है। ये जनता का दिमाग भटकाने के लिए अलग ही रंग देने काम करते रहे हैं। उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दोहरे चरित्र की पार्टी है। प्रदेश की जनता ने इन सभी गैर कांग्रेसी दलों को -सपा को 4 बार, बसपा को 4 बार एवं भाजपा को 3 बार सत्ता में रहने का मौका दिया लेकिन कोई भी दल कसौटी पर खरे नहीं उतरे। उन्होने कहा कि अब आपको कांग्रेस की सरकार बनानी है।


पी. एल. पुनिया ने कहा कि आज उ.प्र. में सबसे अधिक उत्पीड़न दलितों का हो रहा है। दलितों की जमीनों पर कब्जे हो रहे हैं। प्रदेश सरकार सब कुछ जानने के बाद भी कुछ नहीं कर रही है।


डा. संतोष सिंह ने कहा कि प्रदेश में सपा सरकार के सत्ता में आते ही जंगलराज कायम हो गया है। आम जनता का जीवन असुरक्षित हो गया है। लोगों का घर से निकलना दूभर हो गया है। सपा, बसपा और भाजपा से प्रदेश की जनता को निजात दिलाने के लिए प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाना है।


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top