Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

लखनऊ पहुँची कांग्रेस की शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान यात्रा

 shabahat |  2017-01-10 13:00:59.0



लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के तत्वावधान में कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आह्वान पर दलितों के ‘‘शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान’’ के लिये 4 दिसम्बर को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर सांसद द्वारा झण्डी दिखाकर रवाना की गयी यात्रा प्रदेश के दलित बाहुल्य 66 जिलों में 85 आरक्षित विधानसभाओं में भ्रमण करने के बाद आज लखनऊ पहुंची, जिसका प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में विधिवत समापन किया गया.


समापन के मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर, अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन के. राजू, सांसद पी.एल. पुनिया, सांसद प्रमोद तिवारी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री जे.डी. शीलम, विभाग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी एवं विभाग के प्रान्तीय चेयरमैन भगवती प्रसाद चौधरी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. संतोष सिंह, पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, सत्यदेव त्रिपाठी, राजबहादुर, ए.आई.सी.सी. अनुसूचित जाति विभाग के कोआर्डिनेटर शशांक शुक्ला आदि वरिष्ठ नेतागण मौजूद रहे.

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा कि आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय उन योद्धाओं का मंच है जिन्होंने कांग्रेस की परम्पराओं को आगे बढ़ाने का काम किया है. उन्होने कहा कि राहुल गांधी के बार-बार सवाल कि बाबू जगजीवन राम के बाद उनके जैसा नेतृत्व क्यों नहीं आता है. उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सोच, विचार, कार्यप्रणाली से जो दूर हो गये थे और जो कांग्रेस पार्टी की जो सोच रही है आज बहुत दिनों बाद देखने को मिल रहा है. राहुल गांधी के उसी सवाल पर दलित नेतृत्व को विकसित करने का काम अनुसूचित जाति विभाग कर रहा है.

उन्होने कहा कि जब राजनीतिक या सामाजिक कार्यक्रम होते हैं तो मेला होता है लेकिन आज बहुत बड़ा मेला है और यह मेला चुनाव के लिए नहीं बल्कि इस मेले को समझने के लिए राहुल गांधी के उस भाव को समझना होगा, जब राहुल गांधी कलावती का नाम लेते थे तो लोग उपहास करते थे और उपहास उड़ाने वाले लोग अब गलियां ढूंढते हैं, पानी की बोतल और खाने के लिए रसोइये का इंतजाम करते हैं. उन्होंने सदैव दिल वालों के बीच जाने का काम किया है. उन्होने कहा कि शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभियान यात्रा क्यों? 17जनवरी आने वाला है और उसी दिन हैदराबाद के रोहित वेमुला ने अपने प्राणों की आहुत दी अपने स्वाभिमान के लिए, अपने अधिकार के लिए और सुरक्षा के लिए. लेकिन दुर्भाग्य है कि देश में आज जो सरकार है उस नौजवान की शिक्षा, सुरक्षा और स्वाभिमान पर कोई बात करने के बजाय इस बात की जांच कर रही है कि वह किस जाति का था.

उन्होने अनुसूचित जाति विभाग की हजारों की भीड़ से कहा कि आप लोगों के पास ताकत है, बाबा साहब के संदेश के अनुसार शिक्षित बनो, संगठित हो और संघर्ष करो की तर्ज पर आप लोगों को इस मूलमंत्र को मन में रखकर जो शिक्षा प्राप्त की है संगठित हो जाइये ताकि आपको कोई साधन न बना सके. आपके बहुमत के सहारे लोग जीत जाते हैं अब आपको खुद जीतने की जरूरत है और खुद जीतने की ताकत बनो ताकि दूसरा कोई आपको मोहरा न बना सके. उन्होने दलित समुदाय का आवाहन किया कि प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के अंदर से आज बाबा साहब की नीतियों पर चलने का प्रण लेकर जायें और कांग्रेस पार्टी और उत्तर प्रदेश को बेहतर बनाने का काम करें.

अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन के. राजू ने सम्बोधित करते हुए कहा कि राहुल गाँधी का सपना है कि देश के हर राज्य में दलित नेतृत्व आगे आये और राजनीति, सरकार हर जगह शामिल हो. कांग्रेस पार्टी में बाबू जगजीवन राम के बाद अब राहुल गांधी के सपने के अनुसार हर जिले में दलित नेतृत्व पैदा हो ऐसा कार्य अनुसूचित जाति विभाग कर रहा है. उन्होने कहा कि यूपी में बसपा सिर्फ पैदा इसलिए हुई क्योंकि कांग्रेस पार्टी से दलित दूर हो गया था.

बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के संदेश और राहुल की इसी सोच को लेकर आगे बढ़ने की आवश्यकता है. कांग्रेस पार्टी को सत्ता में लाने की जो आप सभी की सोच है वह निश्चित रूप से सफल होगी. उन्होने कहा कि अनुसूचित जाति विभाग को एक चुनौती है कि आरक्षित सीट पर ही नहीं बल्कि प्रत्येक सीट पर दलितों का वोट कांग्रेस को मिले इसके लिए काम करना होगा. उन्होने कहा कि कांग्रेस को सत्ता में लाने के लिए दलितों का प्रत्येक वोट कांग्रेस को दिलाने के लिए आपको चुनाव तक पूरी मेहनत से कार्य करना है. चुनाव के बाद भी हम इसी तरह अपने लक्ष्य के साथ काम करते रहेंगे.

सांसद पी.एल. पुनिया ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के इसी प्रांगण से विगत 4 दिसम्बर को शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान यात्रा शुरू हुई थी. 6 दिसम्बर को बाबा साहब के निर्वाण दिवस पर प्रदेश के सभी जिलों में निर्वाण दिवस मनाकर बाबा साहब को याद किया गया. यह यात्रा 40दिनों में लगभग साढ़े तीन लाख किलोमीटर की रही और हर जिले में 130 यात्राएं हुईं. इस यात्रा को बड़ी कामयाबी मिली. उन्होने कहा कि दलित समाज में जागृति आयेगी तो कांग्रेस पार्टी मजबूत होगी क्योंकि दोनों ही एक दूसरे के पूरक हैं. उन्होने कहा कि यात्रा शुरू होने के पहले प्रशिक्षण कार्यक्रम हुए वाराणसी, आगरा, लखनऊ आदि जनपदों में प्रशिक्षण शिविर और टीमों का गठन किया गया.

अनुसूचित जाति विभाग के जिलाध्यक्षों के नेतृत्व में इन प्रशिक्षित टीमों ने जिलों-जिलों में जाकर काम किया और बाबा साहब के संदेश और दलितों के उत्थान में कांग्रेस पार्टी, पं. नेहरू, महात्मा गांधी, इन्दिरा गांधी का क्या योगदान रहा और सोनिया गांधी के नेतृत्व में दलित उत्थान के लिए कांग्रेस पार्टी ने क्या कदम उठाये और राहुल गांधी दलित उत्थान के लिए क्या कदम उठाते रहे हैं इस पर लेख तैयार कर जनता के बीच पहुंचाया गया. उन्होने कहा कि शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान का मुद्दा दलितों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है. उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी की प्रदेश में सरकार बनने पर दलितों को केजी से पीजी तक निःशुल्क शिक्षा, रहने के लिए हास्टल और आवासीय विद्यालयों में शिक्षा की व्यवस्था की जायेगी. उन्होने कहा कि डॉ. अम्बेडकर आरोग्यश्री योजना के तहत दो लाख रूपये तक सरकारी एवं निजी अस्पतालों में निःशुल्क चिकित्सा प्रदान की जायेगी. दलित परिवारों केा मकान दिये जायेंगे जिसमें बिजली, पानी और शौचालय मौजूद हों। उन्होने कहा कि दलित बेरोजगारों को स्वरोजगार के लिए दो लाख रूपये बिना बैंक की गारण्टी के लोन दिलाकर उन्हें रोजगार दिलाया जायेगा. उन्होने कहा कि आप सभी को दलित समुदाय को पूरी ताकत के साथ कांग्रेस पार्टी के पक्ष में एकजुट करना है यही संकल्प यहां से सभी को लेकर जाना है.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री जे.डी. शीलम ने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर के विचारों को आम जनता तक पहुंचाकर दलितों को कांग्रेस के पक्ष में एकजुट करना है और उ.प्र. में कांग्रेस केा मजबूत करना है. कांग्रेस पार्टी ने सदैव दलितों के उत्थान के लिए कार्य किया है और करती रहेगी। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश में सरकार बनने पर दलितों के लिए 8 वचन का संकल्प लिया है जिसे प्रदेश में सरकार बनने पर पूरा किया जायेगा इसके लिए दलित वर्ग में कांग्रेस पार्टी और बाबा साहब के संदेश को पहुंचाकर प्रदेश में कांग्रेस को सत्ता में लाने की जिम्मेदारी अनुसूचित जाति विभाग की है जिसे आप सभी को आज संकल्प लेकर जाना है और उसे पूरा करना है.

सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा कि विश्व में आज तक तीन तानाशाहों ने डिमोनिटाइजेशन किया था और चौथे नम्बर पर नरेन्द्र मोदी हैं. उन्होने कहा कि यह राजनीति में ईस्ट इंडिया कम्पनी की तरह आये हैं. कैशलेस के जरिये यदि कोई कमीशन लेना चाहता है तो वह नरेन्द्र मोदी और अमित शाह हैं. उन्होने कहा कि गुजरात में जिस तरीके से दलित समुदाय केा पीटा जा रहा था पीटने वाले चाहे कोई रहें हों लेकिन उनकी मानसिकता नरेन्द्र मोदी की ही थी. उन्होने कहा कि देश में लोकतंत्र आज खतरे में है. एक व्यक्ति लोकतंत्र के सहारे तानाशाही करना चाहता है. इस तानाशाही के विरूद्ध सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी ही लड़ सकती है और तानाशाही को खत्म कर सकती है. उन्होने कहा कि प्रदेश में चुनाव मुहाने पर है दिल्ली का रास्ता उ.प्र. से होकर जाता है आज यह देखने की जरूरत है कि कांग्रेस आपके लिए क्या कर रही है बल्कि यह देखने की जरूरत है आप कांग्रेस को क्या दे रहे हैं. क्येांकि कांग्रेस कमजोर होगी तो देश कमजोर होगा. आज देश में चाहे भाजपा हो, सपा हो या बसपा, दलित विरोधी हैं. कांग्रेस पार्टी मन, बचन और कर्म से दलितों के हितों के लिए समर्पित है. कांग्रेस पार्टी आपके आरक्षण को खत्म नहीं होने देगी और इसके लिए खड़ी रहेगी. आज आपको पहचानने की जरूरत है कि आपके साथ कौन खड़ा है इसलिए आप सभी को कांग्रेस पार्टी की उ.प्र. में सरकार बनाने के लिए पूरी ताकत लगानी है.

अनुसूचित जाति विभाग के प्रान्तीय चेयरमैन भगवती प्रसाद चौधरी ने कहा कि अनुसूचित जाति विभाग द्वारा निर्धारित 60 दिनों की यात्रा को 40 दिन में ही अपने लक्ष्य को प्राप्त किया गया है. उन्होने कहा कि शिक्षा-सुरक्षा -स्वाभिमान यात्रा का आज समापन हो रहा है लेकिन इसके सम्बन्ध में जो भी काम शुरू किये गये हैं वह हमारे विभाग के लेाग निरन्तर जारी रखेंगे जब तक दलित समुदाय अपने अधिकारों को प्राप्त करने में सक्षम नहीं हो जाता है.

समापन समारोह में यात्राओं में शामिल रहे अनुसूचित जाति विभाग के वह पदाधिकारी जिन्होने अधिक से अधिक जिम्मेदारियां निभाई हैं एवं विभाग के जिला/शहर अध्यक्षेां को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया.

इस मौके पर कई संगठनों से जुड़े हुए दलित नेताओं ने भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर, अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन के. राजू, प्रान्तीय चेयरमैन भगवती प्रसाद चौधरी के समक्ष कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. जिन्हें प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं सदस्यता प्रभारी मदन मोहन शुक्ला ने सदस्यता दिलायी. सदस्यता ग्रहण करने वालों में प्रमुख रूप से दलित सहयोग परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास पासवान, जनपद ललितपुर के सुभाष जायसवाल, जनपद मेरठ के विक्रम प्रसाद कुवेरिया, जनपद झांसी के बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष मदनलाल अहिरवार, राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल के जनपद कालपी-जालौन के मो. मकसूद, जनपद झांसी के धनविक समाज के ब्लाक प्रमुख अरविन्द नागर आदि ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

समापन समारोह में बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के जीवन दर्शन पर आधारित गीत गाकर प्रसिद्ध गायक श्रीराम यादव एवं उनके साथियों ने समापन कार्यक्रम में आये प्रतिनिधियों का मन लुभाया. समारोह को सम्बोधित करने वाले अन्य प्रमुख नेताओं में वरिष्ठ उपाध्यक्ष डा. संतोष सिंह, पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, सत्यदेव त्रिपाठी, राज बहादुर, शशांक शुक्ला आदि प्रमुख रहे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top