Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अपनी समीक्षा रिपोर्टों पर भी नज़र डालें मुख्यमंत्री

 Sabahat Vijeta |  2016-03-29 16:25:46.0

bjplogoलखनऊ, 29 मार्च. भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि विकास के दावे करते समय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सरकारी विभागों की समीक्षा रिपोर्टो पर भी नजर डाल लिया करें। प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा की लापरवाही के कारण स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) दम तोड रहा है। लक्ष्य के सापेक्ष महज 30 प्रतिशत की प्रगति है। उन्होंने कहा प्रदेश में प्रधानमंत्री सडक योजना से लेकर स्वच्छ भारत मिशन तक में निराशाजनक स्थिति प्रकट करती है। राज्य में काम-काज की क्या स्थिति है। श्री पाठक ने कहा कि विपक्ष पर विकास में बाधा डालने का आरोप लगाते सपाई प्रवक्ता तथ्यों पर तो गौर कर लिया करें। क्या समाजवादी पेशन 45 लाख लोगो को दे रहे है?


मंगलवार को पार्टी मुख्यालय पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के इटावा में कहे गये बयान ’’विकास पचा नहीं पा रहे विरोधी’’ पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि विकास कहां हो रहा है? आगरा एक्सप्रेस वे मैट्रो से बाहर निकल विकास की सच्चाई तो देख ले मुख्यमंत्री। राज्य की सड़के खस्ता हालात में है। बिजली को लेकर दावे से इतर हकीकत है, जब चुनाव घोषणा पत्र बना रहे थे तो कहा विजली की उपलब्धता ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 20 घण्टे और शहरी क्षेत्रों में 22 घण्टे की होगी, 4 वर्ष बाद 16 घटे के आपूर्ति की बात कर रहे है।


उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) की मंत्री द्वारा समीक्षा के हवाले से आये समाचारों के प्रति चिंता जाहिर करते हुए कहा कि जब मंत्री की समीक्षा बैठक में तथ्य आये है कि स्वच्छ भारत मिशन का लक्ष्य महज 30 फिसदी ही पूरा हो पाया तो समझा जा सकता है कि राज्य में विकास की गति क्या है। चालू वित्तीय वर्ष में 20,93,294 व्यक्तिगत शौचालय बनाये जाने थे जिसके सापेक्ष अभी 6,30,813 शौचालय ही बनाए जा सके। अब जब 30 प्रतिशत ही काम हो रहा है तो राज्य कैसे विकास की उॅंचाईयों को छू रहा है। उन्होंने कहा इसी प्रकार बार बार 45 लाख लोगो को समाजवादी पेशन देने की बात कही जाती है किन्तु समीक्षा बैठको के दौरान जानकारी में है कि 45 लाख लोगो तक समाजवादी पार्टी पेशन देने का लक्ष्य पहुॅच नहीं पाया है।


श्री पाठक ने कहा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव हो अथवा उनके पार्टी प्रवक्ता विपक्ष पर विकास में बाधा डालने का आरोप, पचा नहीं पाने का आरोप लगाने की बजाय थोडा जो आंकडे सरकारी है उन पर भी नजर डाल लिया करे। आखिर यदि स्वच्छता मिशन परवाना नहीं चढ पा रहा है तो इसमें विपक्ष की क्या भूमिका है बता दे, हम उसे ठीक करने का प्रयास कर लेगे, रही बात आधार हीन आलोचना की तो क्या यह तथ्य नहीं है कि 45 लाख लोगो तक पेशन नहीं पहुॅच रही है, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) में शौचालय निर्माण महज 30 प्रतिशत हो पाया, प्रधानमंत्री सड़क योजना की गति मंथर है।

  Similar Posts

Share it
Top