Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

National Sports Day सीएम अखिलेश ने खिलाड़ियों को किया सम्मानित

 Girish Tiwari |  2016-08-29 11:38:39.0

akh-sports-2


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ: 
यूपी के सीएम अखिलेश यादव सोमवार को खेल दिवस के मौके पर खिलाड़ियों को प्रदेश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार से सम्मानित किया। सीएम अखिलेश ने अपने निवास पर खिलाड़ियों को रानी लक्ष्मीबाई और लक्ष्मण पुरस्कार दिया। इसके अलावा रियो ओलम्पिक में भाग लेने वाले प्रत्येक खिलाड़ी को 10 लाख रूपए भी दिया।


सीएम अखिलेश यादव ने इस मौके पर कहा कि उनकी सरकार ने अपने कार्यकाल में बहुत अच्छा काम किया. जनता अगर फिर से मौक़ा देगी तो इस बार इससे भी बेहतर काम करके दिखायेगी. उन्होंने कहा कि आबादी बढ़ी है लेकिन खिलाड़ियों का प्रदर्शन उस अनुपात में बेहतर नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों की बेहतर ट्रेनिंग के इंतजाम किये जायेंगे.  अखिलेश यादव ने कहा कि जिन खिलाड़ियों ने बेहतर प्रदर्शन किया और देश के लिए मैडल जीते हैं हम उनका सम्मान करेंगे.


मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि राज्य सरकार रियो ओलम्पिक खेल-2016 में देश का गौरव बढ़ाने वाली खिलाड़ियों पी.वी. सिन्धु, सुश्री साक्षी मलिक एवं सुश्री दीपा करमाकर को एक करोड़ रुपए का पुरस्कार देकर सम्मानित करेगी। इस मौके पर उन्होंने रियो ओलम्पिक खेल-2016 में प्रतिभाग करने वाले प्रदेश के 10 खिलाड़ियों को 10-10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की। साथ ही, 20 खिलाड़ियों को वर्ष 2014-15 व 2015-16 के लिए लक्ष्मण व रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार भी प्रदान किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पुलिस भर्ती बोर्ड के माध्यम से पुलिस विभाग में स्पोर्ट्स कोटा के रिक्त पदों पर जल्द से जल्द भर्ती करेगी।


akh-sportsसीएम अखिलेश यादव इस समारोह में प्रदेश के 20 खिलाड़ियों को सम्मानित किया। साथ ही सीएम अखिलेश ने रियो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली हरियाणा की साक्षी मालिक को रानी लक्ष्मीबाई अवार्ड दिया। रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार के तहत साक्षी को 3.11 लाख रुपये की नकद राशि, रानी लक्ष्मी बाई की प्रतिमा दी जाएगी। 23 साल की साक्षी मलिक ने 58 किलोग्राम कुश्ती वर्ग में कांस्य पदक जीता है।


बता दें कि रक्षाबंधन के मौके पर सीएम ने कहा था कि समाजवादी पार्टी हमेशा से महिलाओं का सम्मान करती आई है और आगे भी करती रहेगी। उन्होंने कहा था कि साक्षी मालिक ने देश का नाम रोशन किया है। प्रदेश सरकार देश की इस बेटी को सम्मानित करेगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बेटियों को आगे बढ़ाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी।


cm-awaedश्री यादव ने कहा कि रियो ओलम्पिक में पदक सूची में देश का स्थान देखने के साथ ही, खिलाड़ियों को उपलब्ध हो रही सुविधाओं के बारे में भी ध्यान देना होगा। अधिक पदक पाने वाले देशों में खिलाड़ियों को उपलब्ध प्रैक्टिस आदि की सुविधाएं यहां उपलब्ध नहीं हैं। समाजवादी सरकार ने खिलाड़ियों को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की खेल की बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराने के साथ ही, अच्छी ट्रेनिंग, अच्छे खान-पान तथा अच्छे स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने का प्रयास किया है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि जापान में होने वाले अगले ओलम्पिक खेलों में प्रदेश की भी कुछ प्रतिभाएं देश के लिए पदक लाने वालों में शामिल होंगी।


श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार जहां एक ओर प्रदेश के सम्पूर्ण विकास पर जोर देते हुए गांव, शहर, गरीब, नौजवान, किसान, दस्तकार, उद्यमी आदि की बेहतरी के लिए तेजी से फैसले लेकर उन्हें लागू कर रही है। वहीं दूसरी ओर राज्य में शिक्षा के साथ-साथ खेल और खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए भी अनेक फैसलों पर अमल कर रही है। खिलाड़ियों का सम्मान करने में समाजवादी सरकारें हमेशा आगे रही हैं। ‘यश भारती’ पुरस्कार से सबसे ज्यादा खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया है। खिलाड़ियों को दी जाने वाली पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी की गई है। उन्होंने भरोसा जताया कि राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त कर प्रदेश के खिलाड़ी, खेल जगत में नई ऊँचाईयां प्राप्त करेंगे और प्रदेश व देश को गौरवान्वित करेंगे।


इन खिलाडि़यों को मिला सम्‍मान


मुख्यमंत्री ने लक्ष्मण व रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार से सम्मानित पुरुष खिलाड़ियों को लक्ष्मण जी तथा महिला खिलाड़ियों को रानी लक्ष्मीबाई की कांस्य प्रतिमा, 3 लाख 11 हजार रुपए की धनराशि तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। वर्ष 2014-15 के लिए सुश्री सीमा पुनिया (एथलेटिक्स), सुश्री पूनम यादव (भारोत्तोलन), सुश्री रितुषा आर्या (हाॅकी), सुश्री सिमरन भारती (साॅफ्ट टेनिस) तथा वेटरन वर्ग में सुश्री प्रेम माया (हाॅकी) को रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार तथा मनु अत्रि (बैडमिन्टन), आदित्य सिंह राणा (जिम्नास्टिक), सचिन कुमार भारद्वाज (हैण्डबाॅल) तथा वेटरन वर्ग में मोहम्मद शाहिद (हाॅकी) व विजय सिंह चौहान (एथलेटिक्स) को लक्ष्मण पुरस्कार प्रदान किया।


वर्ष 2015-16 के लिए सुश्री दीप्ति शर्मा (क्रिकेट), सुश्री सृष्टि अग्रवाल (हैण्डबाॅल), सुश्री प्रियंका सिंह (कुश्ती), सुश्री योगिता (साॅफ्ट टेनिस) तथा वेटरन वर्ग में सुश्री पुष्पा श्रीवास्तव (हाॅकी) को रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार तथा सुरेश रैना (क्रिकेट), कमलेश कुमार शुक्ला (साॅफ्ट टेनिस), अनुभव प्रताप सिंह (शूटिंग) तथा वेटरन वर्ग में सुजीत कुमार श्रीवास्तव (हाॅकी) को लक्ष्मण पुरस्कार प्रदान किया गया।


रियो ओलम्पिक खेल-2016 में प्रतिभाग करने वाले प्रदेश के कुल 10 खिलाड़ियों सुश्री सुधा सिंह (एथलेटिक्स), सुश्री सीमा पुनिया (एथलेटिक्स), सुश्री वन्दना कटारिया (हाॅकी), सुश्री प्रीति दुबे (हाॅकी), दानिश मुज्तबा (हाॅकी), मेराज अहमद खान (शूटिंग), सन्दीप तोमर (कुश्ती), अंकित शर्मा (एथलेटिक्स),  जीतू राय (शूटिंग) तथा मनु अत्रि (बैडमिन्टन) को 10-10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि तथा प्रशस्ति पत्र मुख्यमंत्री ने प्रदान किया।

किन्हीं कारणों से कार्यक्रम में अनुपस्थित रहे पुरस्कृत खिलाड़ियों-सुरेश रैना, जीतू राय तथा सुश्री दीप्ति शर्मा का पुरस्कार उनके प्रतिनिधियों ने प्राप्त किया। जबकि स्व. मोहम्मद शाहिद का पुरस्कार उनकी पत्नी ने प्राप्त किया।

वहीं हैंडबॉल में अपना जौहर दिखा चुकी सृष्टि अग्रवाल और वल्र्ड सॉफ्ट टेनिस चैंपियनशिप में भाग ले चुकी योगिता कुमारी का भी सम्मानित किया। वहीं ढाका 2017 में आयोजित दक्षिण मध्य एशियाई जिमनास्टिक चैंपियनशिप में रजत पदक और 2007 में सीरिया में आयोजित जूनियर एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले आदित्य सिंह राणा को भी प्रदेश का सर्वोच्च खेल सम्मान दिया गया। आदित्य ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स, कोरिया में एशियाड और चीन में वल्र्ड चैंपियनशिप में भी हिस्सा ले चुके हैं।


खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रामसकल गूजर ने कार्यक्रम में कहा कि उत्तर प्रदेश खिलाड़ियों को बेहतर खेल सुविधाएं मुहैया कराने में सबसे आगे है। ओलम्पिक खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों को एकल वर्ग में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर 6 करोड़ रुपए, रजत पदक पर 4 करोड़ रुपए तथा कांस्य पदक प्राप्त करने वाले को 2 करोड़ रुपए दिया जाता है। इसी प्रकार टीम गेम्स में स्वर्ण पदक प्राप्त करने पर 3 करोड़ रुपए, रजत पदक पर 2 करोड़ रुपए तथा कांस्य पदक प्राप्त करने पर 1 करोड़ रुपए का पुरस्कार दिया जाता है। ओलम्पिक खेलों में प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को प्रोत्साहन स्वरूप 10 लाख रुपए देने की व्यवस्था है। लक्ष्मण एवं रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार की धनराशि 50 हजार रुपए से 6 गुना से भी ज्यादा बढ़ाकर 3 लाख 11 हजार रुपए की गई है।

मुख्य सचिव दीपक सिंघल ने अपने सम्बोधन में कहा कि राज्य सरकार गांव से शहर तक तमाम योजनाएं चलाकर खेल और खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। प्रमुख सचिव खेल सुश्री अनीता भटनागर जैन ने कहा कि खेल दिलों और राष्ट्रों को जोड़ता है। प्रदेश सरकार ने खेल को बढ़ावा देने के लिए खेल विभाग के बजट में वृद्धि, खिलाड़ियों की पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी, खेल की बुनियादी सुविधाओं को बढ़ाने जैसे महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। विगत 5 साल में खेल के लिए 1500 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है, जो कि अभूतपूर्व है।

कार्यक्रम को खेल राज्यमंत्री रामकरन आर्य तथा प्रसिद्ध खिलाड़ी विजय सिंह चौहान ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में मुख्यमंत्री को ओलम्पिक की टाई, टी-शर्ट और पिन भेंट की गई।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top