Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

CM अखिलेश का अमर सिंह पर तंज: 'बाहरी आदमी निर्णय लेगा तो परिवार और सरकार कैसे चलेगी'

 Abhishek Tripathi |  2016-09-14 07:32:58.0

akhilesh_yadav_amar_singhतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. समाजवादी परिवार में घमासान मचने के बाद पहली बार सीएम अखिलेश यादव ने अपना बयान जारी किया। सीएम अखिलेश ने कहा कि ये बात तो बिल्कुल सही है कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) के आदेश को परिवार के सभी लोग मानेंगे। सीएम अखिलेश ने सियासी घमासान में अपना स्टैंड रखते हुए पहली बार ये भी कहा कि उन्होंने कुछ निर्णय नेताजी के कहने पर लिए हैं और कुछ अहम निर्णय खुद ही लिए हैं। सीएम अखिलेश ने यह भी कहा कि यदि कोई बाहरी निर्णय लेगा या फिर दखलअंदाजी करेगा तो परिवार और सरकार कैसे चलेगी? राजनीतिक गलियारे में सीएम के इस बयान को कई मायनों में देखा जा रहा है।


बताते चलें कि, सोमवार को मुलायम सिंह और शि‍वपाल के करीबी दो मंत्रियों को कैबिनेट से बाहर करने के बाद मंगलवार को मुख्यमंत्री अखि‍लेश यादव ने चीफ सेक्रेटरी दीपक सिंघल की भी छुट्टी कर दी गई। जबकि इस उठा-पटक में शाम ढलते-ढलते अखि‍लेश यादव को यूपी प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा दिया गया। मुलायम‍ ने उनकी जगह शि‍वपाल यादव को यूपी अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है। जबकि पलटवार करते हुए सीएम ने देर शाम शि‍वपाल को तीन मंत्रालयों से बाहर का रास्ता दिखा दिया।


नेताजी के आदेश का पालन करूंगा: शिवपाल
यूपी में सत्तरूढ़ सियासी परिवार में छेड़ी पावर पॉलिटिक्स के बीच शिवपाल यादव बुधवार सुबह मीडिया से मुखातिब हुए और कहा कि हम सब नेताजी के साथ हैं और उनके निर्देशों का पालन करेंगे। शिवपाल ने कहा मंत्री पद बदलने या देने का पूरा अधिकार मुख्यमंत्री के पास है और उन्हीं का फैसला अंतिम होगा। शिवपाल ने कहा कि नेताजी ने मुझे जो जिम्मा सौंपा है मैं उसके अनुसार काम करूंगा और संगठन को मजबूत बनाने पर ध्यान दूंगा। शिवपाल ने कहा कि नेताजी से बात कर फैसला लूंगा। परिवार में ठनी इस सियासी लडा़ई के बीच सैफई में बुधवार को शिवपाल के समर्थन में नारेबाजी भी हुई। इस बीच, अखिलेश मंत्रिमंडल से हटाए गए मंत्री गायत्री प्रजापति बुधवार को नई दिल्ली में मुलायम सिंह से मिले।


मंत्रियों के विभाग में फेरबदल
गौरतलब है कि मंगलवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल यादव से पीडब्लूडी, सिंचाई और राजस्व विभाग छीन लिया था। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही थी कि नाराज शि‍वपाल सरकार से इस्तीफा दे सकते हैं। बता दें कि अखिलेश सरकार में शिवपाल के पास अब सिर्फ समाज कल्याण और परती भूमि विभाग है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top