Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

विधान सभा में सीएम अखिलेश ने लिया तेल चित्र गैलरी के चित्र का किया अनावरण

 Girish Tiwari |  2016-08-29 04:45:32.0

cm inaguration

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
सीएम अखिलेश यादव सोमवार को विधानसभा की गैलरी में पूर्व मुख्यमंत्रियों के तैल चित्रों का अनावरण किया। गैलरी में प्रथम से लेकर अबतक की मुख्यमंत्रियों के चित्र हैं। कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्रियों को भी न्योता भेजा गया था। कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव, चौधरी अजित सिंह और केसरी नाथ त्रिपाठी मौजूद रहे।


जिन मुख्यमंत्रियों के तैल चित्र स्थापित किए गए हैं, उनमें सर नवाब मुहम्मद अहमद सईद खां (नवाब छतारी), पंडित गोविंद वल्लभ पंत, डाॅ0 सम्पूर्णानंद, श्री चंद्रभानु गुप्त, श्रीमती सुचेता कृपलानी, चैधरी चरण सिंह, श्री त्रिभुवन नारायण सिंह, श्री कमलापति त्रिपाठी, श्री हेमवती नन्दन बहुगुणा, श्री नारायण दत्त तिवारी, श्री राम नरेश यादव, श्री बनारसी दास, श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह, श्री श्रीपति मिश्र, श्री वीर बहादुर सिंह, श्री मुलायम सिंह यादव, श्री कल्याण सिंह, सुश्री मायावती, श्री राम प्रकाश, श्री राजनाथ सिंह एवं श्री अखिलेश यादव शामिल हैं।


इसी प्रकार जिन अध्यक्षगणों के तैल चित्र स्थापित किए गए हैं, उनमें श्री पुरुषोत्तम दास टंडन, श्री नफीसुल हसन, श्री आत्माराम गोविंद खेर, श्री मदन मोहन वर्मा, श्री जगदीश शरण अग्रवाल, श्री वासुदेव सिंह, श्री बनारसी दास, श्री श्रीपति मिश्र, श्री धरम सिंह, श्री नियाज हसन, श्री हरि किशन श्रीवास्तव, श्री केशरी नाथ त्रिपाठी, श्री धनीराम वर्मा, श्री बरखू राम वर्मा, श्री सुखदेव राजभर तथा श्री माता प्रसाद पाण्डेय शामिल हैं।


बताते चले कि भारत की आज़ादी से पूर्व उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री सर नवाब मोहम्मद अहमद सैयद खान थे, जिन्होंने 3 अप्रैल 1937 को कार्यभार सम्भाला था। आजादी के बाद पंडित गोविंद बल्लभ पंत उत्तर प्रदेश के पहले निर्वाचित मुख्यमंत्री बने थे।

अवरण के दौरान संसदीय कार्य मंत्री श्री मोहम्मद आजम खां, पूर्व मुख्यमंत्री स्व0 चैधरी चरण सिंह के पुत्र पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अजीत सिंह, स्व0 हेमवती नन्दन बहुगुणा की सुपुत्री विधायक श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी व स्व0 वीर बहादुर सिंह के पुत्र श्री फतेह बहादुर सिंह सहित राज्य मंत्रिमण्डल के सदस्य, विधायक एवं अन्य जनप्रतिनिधिगण, प्रमुख सचिव विधान सभा श्री प्रदीप दुबे सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top