Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बसपा ने अम्बेडकर और कांग्रेस ने गांधी प्रतिमा को बनाया ठिकाना

 Tahlka News |  2016-07-21 07:55:53.0

बसपा ने अम्बेडकर और कांग्रेस ने गांधी प्रतिमा को बनाया ठिकाना
तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती पर भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की अभद्र टिप्पणी के बाद यूपी में सियासी तूफ़ान आ गया है. इस तूफ़ान में राजनीतिक प्रतीकों पर अपनी कब्जेदारी भी गुरुवार को साफ़ दिखाई दी.

बसपा कार्यकर्ताओं ने जहाँ आंबेडकर प्रतिमा को अपना ठिकाना बना कर उग्र प्रदर्शन किया वहीँ कांग्रेस नेताओं ने मौन विरोध के लिए महज 50 मीटर दूर गांधी प्रतिमा को अपना ठिकाना बना लिया.

भाजपा ने आनन् फानन में पहले तो दयाशंकर सिंह को पद से हटाया और बुधवार की देर रात पार्टी से निष्काषित कर डैमेज कंट्रोल की कोशिश की मगर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने भी इस मामले में सियासी चूल्हा जला लिया है.


मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पहल कर दयाशंकर के खिलाफ FIR लिखवा कर खुद को महिला अस्मिता के रक्षक के रूप में पेश कर दिया.

गुरुवार को दयाशंकर की गिरफ्तारी की मांग को ले कर बसपाइयों ने लखनऊ के हजरत गंज स्थित आंबेडकर प्रतिमा को अपना ठिकाना बना लिया. आनन् फानन में भेजे गए संदेशो के बाद प्रदेश भर से आये हजारो बसपाइयों ने अम्बेडकर प्रतिमा तक पहुचने वाले सारे रास्ते जाम कर दिए.

हालाकि यह भीड़ दयाशंकर सिंह के खिलाफ बहुत ही उग्र थी और अपमानजनक भाषा का प्रयोग कर राजनितिक मर्यादाओं के चीथड़े उड़ने में कोई कमी नहीं रख रही थी मगर सामान्य यातायात के साथ बहुत ही अनुशाषित तरीके से पेश आई.

सूबे में अपनी जमीन तलाशने वाली कांग्रेस ने भी मौके पर अपनी उपस्थिति जताने में कोई कमी नहीं छोड़ी. पार्टी ने मौन प्रदर्शन के लिए गांधी प्रतिमा पर जुटाने का आह्वान कर दिया.

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर, पूर्व अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी सहित कई वरिष्ठ नेता पहुच गए. गुरुवार को इस प्रदर्शन में जुटी भीड़ ने भी कांग्रेसी नेताओं को उत्साहित कर दिया. कांग्रेस के इस प्रदर्शन में करीब 2 हजार की भीड़ थी. लम्बे समय बाद राजधानी की सड़को पर कांग्रेसी झंडा दिखाई दिया.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top