Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गेंदबाजों को धैर्य रखना पड़ेगा : अश्विन

 Girish Tiwari |  2016-07-14 10:46:34.0

IndiaTv8cf6fc_ashwin

सेंट किट्स, 14 जुलाई. भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन का मानना है कि वेस्टइंडीज की धीमी पिचों पर भारतीय गेंदबाजों के लिए धैर्य रखना काफी अहम होगा। उन्होंने कहा कि वह जितना हो सकेगा 'नीरस गेंदबाजी' करना पसंद करेंगे। भारतीय टीम इस समय वेस्टइंडीज के दौर पर है, जहां उसे चार टेस्ट मैचों की श्रंखला खेलनी है, जो 21 जुलाई से शुरू हो रही है।

बीसीसीआई डॉट टीवी ने अश्विन के हवाले से कहा है, "निश्चित ही यह काफी चुनौतीपूर्ण होने वाला है। जिस तरह की पिच यहां पर है, जिस तरह की गर्मी यहां पर है, उससे यह दौरा आसान नहीं होगा।"


इस भारतीय ऑफ स्पिनर ने कहा, "मैंने पिछले अभ्यास मैच में जो देखा, उससे पता चला की यहां कि विकेट काफी धीमी है। पूरे दिन गेंदबाजी करने के लिए मुझे ज्यादा से ज्यादा नीरस होने की जरूरत होगी।"

अश्विन ने पहले अभ्यास मैच में हिस्सा नहीं लिया था, लेकिन उन्होंने इस मैच में लेग स्पिनर अमित मिश्रा को गेंदबाजी करते देख काफी कुछ सीखा। मिश्रा ने पहले अभ्यास मैच में चार विकेट लिए थे।

अश्विन ने कहा, "आपने मिशी (अमित मिश्रा) के देखा होगा। उसे 15-16 ओवर फेंकने के बाद भी विकेट नहीं मिला था, लेकिन जैसे ही उन्हें पहली सफलता मिली, वह लगातार विकेट लेते चले गए। इसलिए इस बात का हमें ध्यान रखना पड़ेगा।"

उन्होंने कहा, "शुरुआत के कुछ दिन या हो सकता टेस्ट मैच के तीसरे दिन तक स्पिनरों के लिए कुछ न हो। थोड़ा बहुत उछाल या धीमापन विकेट में हो सकता है। लेकिन आपको एक ही लाइन लेंथ पर गेंदबाजी करनी होगी।"

भारतीय टीम के नवनियुक्त मुख्य कोच दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने नेट पर गेंदबाजी की थी। इस ऑफ स्पिनर का कहना है कि कुंबले को अभ्यास सत्र में गेंदबाजी करते देख उन्हें काफी फायदा हुआ है। अश्विन ने कहा कि उन्होंने कुंबले से बात की है और वह जानते हैं कि कोच को उनसे क्या उम्मीदें हैं।

अश्विन ने कहा, "उन्होंने (कुंबले) ने नेट पर गेंदबाजी करना शुरू कर दिया है, जिससे मैं काफी कुछ सीख रहा हूं। अभी तक उन्होंने मुझे आत्मविश्वास के साथ काफी जिम्मेदारियां भी दी हैं। उन्होंने मुझे अपने आप को व्यक्त करने की छूट दी है, जिसका मैं आनंद उठा रहा हूं।"

कुंबले और अपने बातचीत के बारे में अश्विन ने कहा, "हमारे बीच खुलकर बातें हुईं। उन्होंने मुझे पहले ही बता दिया है कि उनको मुझसे क्या उम्मीदें हैं। मैंने भी उन्हें बता दिया है कि मैं उनसे क्या सीखना चाहता हूं।" (आईएएनएस)|

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top