Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

PM मोदी की कैशलेस योजना को झटका, पेट्रोल पंप पर नहीं चलेगा क्रेडिट-डेबिट कार्ड

 Girish |  2017-01-08 15:42:52.0

petrol pump
तहलका न्यूज़ ब्यूरो
लखनऊ. ऑल इंडिया पेट्रोल पंप एसोसिएशन के फैसले का यूपी पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने भी समर्थन करते हुए फैसला लिया है कि आज रात 12 बजे से सूबे में पेट्रोल पंप आउटलेट्स पर क्रेडिट और डेबिट कार्ड से पेमेंट नहीं लेंगे. अब लोग सोमवार से पेट्रोल पंपों पर कार्ड्स पेमेंट के जरिए पेट्रोल और डीजल नहीं भरवा सकेंगे. गौरतलब है कि इस मामले में सबसे पहले तमिलनाडु में विरोध शुरू हुआ था.

बता दें कि एचडीएफसी बैंक समेत कुछ बैंकों ने 9 जनवरी से क्रेडिट/डेबिट कार्ड से होने वाले सभी लेनदेन पर 1% तक एमडीआर (मर्चेंट डिस्काउंट रेट) फीस वसूलने की सूचना दी. इस फैसले के विरोध में पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने ये फैसला लिया है. एसोसिएशन ने ये भी साफ किया कि जो बैंक एमडीआर नहीं वसूलेंगे, उनके कार्ड पेट्रोलपंप पर चलेंगे.


ऑल इंडिया पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय बंसल ने बताया कि एक फीसदी एमडीआर कटने के चलते यह निर्णय लिया गया है कि 9 जनवरी से देश के सभी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों 53,840 रिटेल आउटलेट्स पर क्रेडिट और डेबिट कार्ड के जरिए पेमेंट स्वीकार नहीं किए जाएंगे.

पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन की माने तो ज्यादातर पेट्रोल पंप HDFC बैंक की POS मशीन का इस्तेमाल कर रहे हैं. पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन का ये फैसला ऐसे समय पर आया है जब सरकार ने पिछले महीने ही कार्ड से पेट्रोल-डीजल की खरीदारी पर 0.75% छूट देने की घोषणा कर रखी है.

एसोसिएशन का कहना है कि कुल मार्जिन 2.5 फीसदी है. इसमें उन्‍हें स्‍टाफ कॉस्‍ट और अन्‍य मैंटेनेंस से जुड़े खर्च करने होते हैं. ऐसे में इतने कम मार्जिन में बैंक को शुल्‍क देना रिटेल आउटलेट्स के लिए संभव नहीं है.

दूसरे कारोबारियों की तरह पेट्रोलियम डीलर्स अपने उत्‍पादों की कीमत भी नहीं बढ़ा सकते हैं. ऐसी स्‍थिति में पेट्रोलियम डीलर्स अपने मार्जिन का एक फीसदी हिस्‍सा बैंकों को देने की स्थिति में नहीं हैं.

पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन की मानें तो इन नए नियम से डीलरों को भारी घाटा होने की आशंका है.

उल्लेखनीय है कि इस समय केंद्र की मोदी सरकार पूरे देश में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत है, एसे में ऑल इंडिया पेट्रोल पंप एसोसिएशन के इस फैसले से मोदी सरकार की डिजिटल मुहीम को तगड़ा झटका लगेगा.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top