Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

17000 किलोमीटर की दूरी तय करेगी भाजपा की परिवर्तन यात्रा

 Sabahat Vijeta |  2016-11-03 10:53:27.0

keshav-prasad-maurya
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. उत्तर प्रदेश की सत्ता में वापसी के लिये भारतीय जनता पार्टी की चार परिवर्तन यात्राएं राज्य की 403 विधानसभा सीटों का भ्रमण करते हुए लखनऊ पहुंचेंगी. रथ यात्रा के दौरान छह स्थानों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनसभाएं होंगी. चारों रथ यात्राएं कुल 17000 किलोमीटर की दूरी तय करेंगी. इन यात्राओं में हर दिन एक राष्ट्रीय नेता एक प्रादेशिक नेता और एक सांसद रथ पर मौजूद रहेंगे.


5 नवम्बर को सहारनपुर से शुरू होने वाली रथ यात्रा को प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर पूजन अर्चन के बाद झंडी दिखाकर सहारनपुर रवाना करने के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव मौर्या ने पत्रकारों को बताया कि 5 नवम्बर को सहारनपुर से, 6 नवम्बर को झांसी से, 8 नवम्बर को सोनभद्र से और 9 नवम्बर को बलिया से परिवर्तन यात्रा शुरू होकर उत्तर प्रदेश के लोगों से जनसंपर्क करते हुए 24 दिसम्बर को लखनऊ पहुंचेंगी.


केशव मौर्या ने बताया कि सहारनपुर से चलने वाली परिवर्तन यात्रा 50 दिन में 109 विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेगी. झांसी से चलने वाली परिवर्तन यात्रा 49 दिन में 79 विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेगी. सोनभद्र से शुरू होने वाली परिवर्तन यात्रा 47 दिन में 108 विधानसभा क्षेत्रों से और बलिया से शुरू होने वाली परिवर्तन यात्रा 46 दिन में 107 विधानसभा क्षेत्रों से गुज़रते हुए लखनऊ पहुंचेगी.


उन्होंने बताया कि इन परिवर्तन यात्राओं के दौरान 36 बड़ी सभाएं होंगी. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र, भाजपा के यूपी प्रभारी ओम माथुर और खुद केशव मौर्या चारों परिवर्तन यात्राओं की शुरुआत में मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा कि 5 नवम्बर को सहारनपुर से निकलने वाली परिवर्तन यात्रा की शुरुआत में राजनाथ सिंह दिल्ली में होने वाली अंतर्राष्ट्रीय समिट की वजह से नहीं रहेंगे. बाकी तीनों यात्राओं में वह मौजूद रहेंगे.


केशव मौर्या ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पश्चिम, ब्रज, बुंदेलखंड, अवध और पूर्वांचल में रथयात्रा पहुँचने पर जनसभा को संबोधित करेंगे. उन्होंने कहा कि यह परिवर्तन यात्राएं यूपी से गुंडाराज और भ्रष्टाचार के सफाए का माहौल तैयार करेंगी और यूपी की सत्ता में भाजपा की वापसी कराएंगी. उन्होंने बताया कि रथयात्रा के दौरान यूपी के सभी भाजपा सांसद, यूपी के सभी केंद्रीय मंत्री यात्रा में शामिल रहेंगे. उन्होंने बताया कि यह रथ जीपीएस सिस्टम से लैस हैं. इनमें लैपटाप और मोबाइल चार्जिंग की वयवस्था है. इसमें मीटिंग रूम है. यात्रा के दौरान की तस्वीरें भाजपा की आईटी टीम सोशल मीडिया के ज़रिये उत्तर प्रदेश की जनता तक पहुंचाएगी.


समाजवादी पार्टी के रथ के खराब हो जाने पर केशव मौर्या ने कहा कि सपा सरकार को यूपी की जनता की हाय लगी हुई है. यह रथ सरकार ने पिता और चाचा के लिए निकाला था. इसी से रुक गया. हम जनता की गाढ़ी कमाई के पैसे से तैयार हुए रथ पर निकलेंगे और इस बार 300 का आंकड़ा पार करेंगे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top