Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सावधान! त्योहारों पर हो सकते हैं अफवाहों के शिकार

 Anurag Tiwari |  2016-10-19 03:52:17.0






varanasi, stampede, rumor, death, panic तहलका न्यूज ब्यूरो


वाराणसी. राजघाट में हुए हादसे में पुल गिरने की अफवाह 25 जिंदगियों पर भारी पड़ गई. न जाने कितने ही घरों की चिराग बुझ गए. इस घटना के पीछे बहुत बड़ी प्रशासनिक लापरवाही सामने आई, जो न केवल इतनी बड़ी भीड़ को मैनेज रही बल्कि समागम में आये लोगों को अफवाहों पर ध्यान न देने के लिए जागरूक कर सकी. आने वाले दिनों में काशी में एक बार फिर बड़े मेलों का आयोजन होना है, जिनमे देव दीपावली का आयोजन भी शामिल है. उस दिन शहर की गलियों में न केवल बनारसियों का हुजूम होगा बल्कि दुनिया भर से आए टूरिस्ट्स की भीड़ भी इस भव्य आयोजन को देखने के लिए शहर में मौजूद होगी। ऐसे में बेसिर-पैर की एक अफवाह फिर सैकड़ों जिंदगियों पर भारी पड़ सकती है.

अफवाहों पर ध्यान न दें और बता रहा है कि भीड़ में किसी अनहोनी की अफवाह फैलने पर क्या करें।




फैलाई जा सकती हैं ये अफवाहें


1. शहर में दंगा हुआ है.

2. शहर में बम विस्फोट हुआ है.
3. भीड़ में आतंकी घुस आए हैं.

4. अमुक जगह लावारिस बैग मिला है

5. किसी जगह आग लग गई है

6. अमुक जगह भगदड़ मचने से कई लोग मर गए.



7. घाट की सीढ़ियां टूट गई हैं.

8. गंगा का जलस्तर अचानक बढ़ रहा है.

9. फलानी जगह पैसा बांटा जा रहा है

10. पुलिस लाठीचार्ज कर रही है.

 

 

क्या करें अफवाहें फैलने पर

अफवाह सुनने पर लोग उनपर आसानी से भरोसा कर लेते हैं. लेकिन कुछ सेकंड का सोच-विचार आपको किसी अनहोनी का शिकार होने से बचा सकता है. किसी भी घटना-दुर्घटना की सूचना मिलने पर उस पर तुरन्त रिएक्ट न करें. इससे न केवल आपको  सूचना की वास्तविकता जांचने में मदद मिलेगी बल्कि कोई अनहोनी वाली स्थिति से बचने में मदद मिलेगी.


किसी भी सूचना के मिलने पर जगह-जगह पर तैनात पुलिस पिकेट से उसकी पुष्टि कर, उनके द्वारा सुझाए गए उपायों को अपनाएं. किसी भी अनहोनी होने की स्थिति में बचाव के लिए उन्हें ट्रेनिंग और उचित निर्देश पहले से दिए गए होते हैं.




अगर भगदड़ में फंस जाएं उठाएं यह कदम



-अगर आप किसी भीड़-भाड़ वाले स्थान पर जा रहे हैं तो सतर्क रहें और  जाने के रास्ते को याद रखें. इससे आपको अनहोनी की स्थिति में निकलने में मदद मिलेगी.


- साथ में बच्चों का ख़ास ध्यान रखें.  बहुत छोटे बच्चों को अपने साथ ही रखें. संभव हो तो उन्हें गोद में उठाकर चलें।

- अगर बच्चे बड़े और समझदार हों तो उन्हें पहले ही एक सुरक्षित स्थान दिखा दें और भीड़ में बिछड़ने की स्थिति में उन्हें वहां रहने को कहें, ताकि भीड़ से निकलने के बाद आप उन तक आसानी से पहुँच सकें. बेहतर होगा कि आप उन्हें किसी पुलिस पिकेट या पुलिस वाले तक पहुंचने को कहें।


- आप अगर भीड़ वाले स्थान पर जा रहे हैं तो उस जगह के बारे मे पूरी जानकारी रखें. इससे आपको भगदड़ की स्थिति में आसानी से निकलने में मदद मिलेगी.


- भगदड़ की स्थिति में भीड़ की विपरीत दिशा में जाने की कोशिश हरगिज न करें. इससे बचने की संभावना बढ़ जाती है.

भगदड़ दौरान अगर आप को थोड़ी सी भी कहीं निकलने जगह दिखे तो उस तरफ जाएं
-भगदड़ मे फंसने पर अपने हाथों को अपनी छाती के सामने किसी बॉक्‍सर की तरह रखें. इससे आपके सीने पर चोट लगने की संभावना काम हो जाएगी।

- भीड़ मे अगर कभी आप गिर जाएं तो तुरन्त जल्‍दी उठने की कोशिश करें. गिरने की स्थिति ही साथ चल रहे बच्चों  को अलग कर दें, जिससे वे आपके साथ न गिरें और उन्हें चोट न पहुंचे।


- अगर आप भीड़ मे गिर भी गए हैं तो घबराएं नहीं. तुरन्त न उठ पाने की स्थिति में जमीन पर तिरछे जाएं और अपने दोनो पैरों को सीने से चिपकाने के साथ ही सिर पर हाथ रख कर आप खुद को आप बहुत हद तक सुरक्षित कर सकते हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top