Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बलिया में चन्द्रशेखर के नाम पर स्थापित होगा विश्वविद्यालय

 Sabahat Vijeta |  2016-05-02 16:40:31.0


  • मुख्यमंत्री ने बलिया में विश्वविद्यालय एवं स्पोर्ट्स काॅलेज का शिलान्यास किया

  • बलिया की इस धरती पर अनेक महापुरुषों ने जन्म लिया, इसी धरती ने चंद्रशेखर जी को देश की सर्वाेच्च कुर्सी पर बिठाया

  • मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय शारदानन्द अंचल के 6वें स्मृति दिवस के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प चढ़ाकर व माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की

  • सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा (बैरिया) की क्षमता बढ़ाकर 100 बेड करने की घोषणा

  • गंगा नदी में नौरंगा के पास शिवपुर घाट पर पक्के पुल के निर्माण की भी घोषणा

  • विधान सभा सिकंदरपुर में घाघरा नदी के खरीद-दरौली घाट पर पक्का पुल बनाने की भी घोषणा

  • मुख्यमंत्री ने बलिया में कई योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

  • अनेक योजनाओं के लाभार्थियों को चेक, साइकिल इत्यादि का भी वितरण


akh-baliaलखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज बलिया के बसंतपुर में विश्वविद्यालय एवं स्पोर्ट्स काॅलेज का शिलान्यास करने के साथ-साथ विभिन्न योजनाओं के तहत जनपद में हुए कार्याें का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया। इस अवसर पर उन्होंने एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए बलिया की जनता को बधाई दी कि उनकी मांग पर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चन्द्रशेखर के नाम पर यह विश्वविद्यालय बनने जा रहा है। इसके निर्माण से नौजवान लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग इसमें ऐसे कोर्स लागू करे, जिससे नौजवानों को रोजगार प्राप्त हो सके और इस विश्वविद्यालय का नाम पूरे देश में गर्व से लिया जा सके। इसमें पढ़ने वाले छात्र अपने को गौरवान्वित महसूस करें। बलिया को इस विश्वविद्यालय से नाम से भी जाना जाए।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा (बैरिया) की क्षमता बढ़ाकर 100 बेड करने, गंगा नदी में नौरंगा के पास शिवपुर घाट पर पक्के पुल के निर्माण, एन.एच.-31 बैरिया से सुरेमनपुर रेलवे स्टेशन तक के मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, विधान सभा क्षेत्र बैरिया के विकास खण्ड रेवती के ग्राम गोपालनगर में राजकीय हाईस्कूल की स्थापना, बैरिया विधान सभा क्षेत्र में गंगा/घाघरा नदी से पम्प कैनाल स्थापित कर सिंचाई की व्यवस्था, विधान सभा फेफना, सागरपाली से थम्हनपुरा बैरिया नरही मार्ग के पुनर्निर्माण, विधान सभा फेफना के धर्मापुर से गोसलपुर बन्धा मार्ग के पुनर्निर्माण, फेफना के उजियार में 50 बेड का अस्पताल के निर्माण, विधान सभा सिकंदरपुर के घाघरा नदी के खरीद-दरौली घाट पर पक्का पुल बनाने, विधान सभा बेल्थरारोड पर अग्निशमन केंद्र की स्थापना, बेल्थरा रोड तहसील पर पुलिस क्षेत्राधिकारी कार्यालय के कार्यालय की स्थापना तथा विधान सभा बेल्थरारोड में घोषित भीमपुरा को यथाशीघ्र विकास खण्ड का दर्जा दिए जाने की भी घोषणा की।


baliaश्री यादव ने सोनौली-बलिया राजमार्ग संख्या-01 का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, सीएचसी जयप्रकाश नगर, बलिया-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-34 के चैनेज 320.00 से 375.570 तक कुल 55.570 किमी सड़क के दोनों ओर 1.50 मीटर चैड़ाई में पेव्ड सोल्डर कार्य, बलिया बाईपास (फेफना, गडवार, सुखपुरा बांसडीह मार्ग) का लोकार्पण करने के साथ-साथ चिलकहर-चोगड़ा मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, चिलकहर-टीकादेउरी मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, पकवाइनार-सिधागर घाट वाया सरायभारती मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, गाजीपुर बाॅर्डर से मुड़ेरा होते हुए रसड़ा तहसील मुख्यालय तक मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, गाजीपुर बाॅर्डर से प्रधानपुर होते हुए रसड़ा तहसील तक मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, बलिया-गड़वार-नगरा-बरौली तक मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, बलिया सिकन्दरपुर मार्ग से विच्छीबोझ होते हुए सिंवान कलां तक मार्ग, भरौली से मेडवरा कलां मार्ग, जनपद बलिया में गाजीपुर-बलिया प्रमुख जिला मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, फाॅयर स्टेशन बांसडीह के आवासीय/अनावासीय भवन, 33/11 केवी के विद्युत उपकेन्द्र रेवती, सुखपुरा, दिघार, रसड़ा एवं रतसड़ की क्षमतावृद्धि तथा विद्युत उपकेन्द्र बेल्थरारोड, रसड़ा तथा चित्तू पाण्डेय चौराहा बलिया का निर्माण, ग्राम पंचायत पुर एवं बैजनाथपुर में बने पाइप पेयजल योजना का भी लोकार्पण किया।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बलिया टाउन में 11 केवी भूमिगत केबिल लगाने के कार्य, बांसडीह तहसील के देल्हुंआ व गड़वार में 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्र के शिलान्यास के साथ-साथ फायर स्टेशन बैरिया के आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण कार्य, लोक निर्माण विभाग द्वारा पूर्वांचल विकास निधि, त्वरित आर्थिक विकास योजना व राज्य योजना के तहत विभिन्न गांवों में कुल 3602.32 लाख की लागत से कुल 65.650 किमी लम्बाई के 19 सड़कों के निर्माण कार्य, घाघरा नदी पर पुल, छितौनी से मालीपुर लेपन कार्य, किडि़हरापुर फतेहपुर मार्ग से सिधौनी, सेमरी गोविन्दपुर से पचदौरा मार्ग, लालगंज बाजार सम्पर्क मार्ग, तुलसीताल बसनहीं नाले पर पुलिया निर्माण, अवरा नाले पर पुलिया के निर्माण, निकासी से मलप लेपन कार्य, बड़ागांव से जिगिरसड रोड, फायर स्टेशन बैरिया तथा उपमण्डी परिषद रानीगंज का भी शिलान्यास किया।


balia-2श्री यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय के बनने, इन घोषणाओं के क्रियान्वित होने, शिलान्यास की गई योजनाओं के पूर्ण होने के उपरान्त तथा लोकार्पित की गई योजनाओं से इस जनपद को एक नई पहचान मिलेगी। अवस्थापना सुविधाओं के विकास के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में तेजी से सड़कों का निर्माण किया है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि जितनी तेजी से सड़कें बनेंगी उससे तिगुनी गति से हमारी अर्थव्यवस्था का विकास होता है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि इसका निर्माण महज 22 महीने में ही पूर्ण हो जाएगा। सरकार ने इस मार्ग के निर्माण के लिए किसानों की सहमति से भूमि ली और सर्किल रेट से 4 गुना मुआवजा दिया।


मुख्यमंत्री ने लखनऊ से बलिया गाजीपुर को जोड़ते हुए समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का जिक्र करते हुए कहा कि यह मार्ग भी जल्द बनेगा। इसके लिए बजट में डेढ़ हजार करोड़ रुपये की धनराशि का प्राविधान किया गया है। यह 4-लेन सड़क बनेगी। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसी सड़क बनाना चाहती है, जो सबके लिए उदाहरण बने। इस सड़क के किनारे मण्डियां बनायी जाएंगी, जिनका सीधा लाभ किसानों को मिलेगा और किसान खुशहाल होगा। उन्होंने कहा कि सड़कों के माध्यम से प्रदेश में खुशहाली का रास्ता खुल रहा है।


श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा छात्र-छात्राओं को 17 लाख निःशुल्क लैपटाॅप अब तक उपलब्ध कराए गए हैं। यह लैपटाॅप ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले विद्यार्थियों के लिए वरदान साबित हो रहे हैं और तकनीकी के प्रति उनमें व्याप्त संकोच को समाप्त करते हुए उनकी किस्मत बदल रहे हैं। समाजवादी पेंशन योजना से अब 55 लाख गरीब परिवारों की महिला मुखिया को लाभान्वित किया जा रहा है। बलिया में 65 हजार से अधिक परिवारों को इस योजना का लाभ दिया गया है। इस योजना से महिलाओं का सम्मान बढ़ रहा है। पेंशन का पैसा सीधे उनके खाते में पहुंच रहा है, ताकि बीच में कोई गड़बड़ी न कर सके। किसान दुर्घटना बीमा योजना का क्षेत्र भी बढ़ा दिया गया है। अब किसी किसान के दुर्घटना में घायल हो जाने पर भी सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जा रही है। पुलिस भर्ती को आसान कर दिया गया है। इसके लिए कोई परीक्षा नहीं देनी होगी। आगे भी सीधी भर्ती होगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा बिजली व्यवस्था ठीक करने के दृष्टिगत प्रदेश में सबसे अधिक ट्रांसमिशन लाइनों व सबस्टेशनों का निर्माण किया गया है। शहरों में 20 घण्टे और गांवों में 14 घण्टे बिजली पहुंच रही है। प्रदेश सरकार ने पिछले 4 साल में बिजली की व्यवस्था को बेहतर किया है। आजमगढ़ व मऊ में भूमिगत केबिल लगाए जा रहे हैं।


श्री यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने हर क्षेत्र में विकास करके खुशहाली और तरक्की के रास्ते को खोल दिया है, जिससे विकास की रफ्तार बढ़ गयी है। आजमगढ़ चीनी मिल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस मिल को नौ महीने के रिकाॅर्ड समय में बनाकर चालू कर दिया गया। किसानों को उनकी उपज का अच्छा मूल्य मिल सके, इसके लिए आलू, आम, दूध, अनाज की मण्डियों का निर्माण किया गया है। इससे किसानों का भविष्य उज्ज्वल हो सकेगा। गरीब परिवारों की बच्चियों की शादी अनुदान की राशि को 10 हजार से बढ़ाकर 20 हजार रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश आबादी के मामले में देश का सबसे बड़ा राज्य है। इसलिए यहां विकास भी तेजी से होना चाहिए।


मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था की स्थिति में बेहतर सुधार की चर्चा करते हुए कहा कि राज्य सरकार समाजवादी एम्बुलेंस की तरह ‘डायल 100’ सेवा लागू करने जा रही है। इस सेवा के अन्तर्गत काॅल करने पर पुलिस 10 से 15 मिनट में काॅलर के पास पहुंच जाएगी। यह सुविधा आगामी जुलाई तक शुरू हो जाएगी।


श्री यादव ने कहा कि बलिया की इस धरती पर बड़े लोगों ने जन्म लिया। इसी धरती ने चंद्रशेखर जी को देश के सर्वाेच्च कुर्सी पर बिठाया। लोकनायक जयप्रकाश नारायण की सम्पूर्ण क्रांति की आवाज को पूरे देश में पहुुंची थी। स्वर्गीय जनेश्वर मिश्र इसी धरती के थे। यह धरती क्रान्तिकारियों और स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की है। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा विकास के लिए उठाए गए कदमों की चर्चा करते हुए कहा कि सीमित संसाधनों के बावजूद उत्तर प्रदेश ने विकास की बुलन्दियों को छुआ है।


इस कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने लोहिया आवास के स्वीकृति-पत्र, समाजवादी पेंशन के प्रमाण-पत्र वितरण के साथ-साथ, कन्या विद्याधन के चेकों और श्रमिकों को साइकिल का भी वितरण किया।


इससे पूर्व श्री यादव ने बैरिया तहसील में बाबा लक्ष्मणदास इण्टर काॅलेज के प्रांगण में जननायक स्वर्गीय शारदानन्द अंचल के 6वें स्मृति दिवस के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प चढ़ाकर व माल्यार्पण करके श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर आयोजित एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जल्द ही बैरिया टाउन एरिया बन जाएगा। उन्होंने कहा कि हुसैनाबाद बिसौली में 132 केवीए का विद्युत सबस्टेशन बनेगा। उन्होंने जिला प्रशासन को बाढ़ रोकने के लिए बंधे का स्टीमेट बनाकर देने के निर्देश भी दिए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बलिया के आर्सेनिक प्रभावित गांवों में आरओ लगाकर शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जाएगी।


कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कन्या विद्याधन के 10 लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र, समाजवादी पेंशन योजना के 10 लाभार्थियों को स्वीकृति-पत्र तथा लोहिया आवास के 5 लाभार्थियों को स्वीकृति-पत्र भी दिए। उन्होंने कटान से प्रभावित 20 किसानों को भूमि आवंटन प्रमाण-पत्र वितरित किए। इसके अलावा 10 श्रमिकों को साइकिल का भी वितरण किया गया।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री को विधायक जयप्रकाश अंचल प्रतीक चिन्ह और शाॅल भेंट किया गया। उन्होंने स्वर्गीय शारदानन्द अंचल पर आधारित पत्रिका का विमोचन किया।


मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों के दौरान प्रदेश सरकार के मंत्रिगण सर्वश्री राम गोविन्द चौधरी, बलराम यादव, ओमप्रकाश सिंह, दुर्गा प्रसाद यादव, शैलेन्द्र यादव ललई, विजय मिश्र, वसीम अहमद तथा रामसकल गुर्जर, सांसद नीरज शेखर, विधायक गोरख पासवान के अलावा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top