Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बादशाह हुए कांग्रेस के

 Sabahat Vijeta |  2016-11-04 14:35:17.0

badshah-cong


लखनऊ. कांग्रेस पार्टी की नीतियों में आस्था विश्वास व्यक्त करते हुए आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. संतोष कुमार सिंह पूर्व सांसद, संगठन प्रभारी एवं पूर्व विधायक फजले मसूद के समक्ष उ.प्र. विधानसभा के चार बार विधायक रहे जनपद महोबा के पूर्व मंत्री बादशाह सिंह ने भाजपा छोड़कर एवं जनपद बहराइच के नानपारा से विधायक रहे पूर्व विधायक वारिस अली ने बसपा छोड़कर सिद्ध गोपाल अहिरवार चेयरमैन, खरैला नगर पंचायत, महोबा, लतीफ अहमद जिला सचिव समाजवादी पार्टी एवं बादशाह सिंह की पत्नी श्रीमती रत्ना सिंह ने अपने हजारों समर्थकों के साथ कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. सदस्यता ग्रहण करने वालों में अनेक पूर्व प्रधान, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य एवं सहकारिता के पदाधिकारी शामिल रहे. उपाध्यक्ष एवं ज्वाइनिंग प्रभारी मदन मोहन शुक्ला ने सदस्यता ग्रहण करने वालों को विधिवत कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण करायी.


यह जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी ने बताया कि सदस्यता के उपरान्त प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर सांसद ने सदस्यता ग्रहण करने वालों से मिलकर कांग्रेस परिवार में स्वागत किया. उन्होने कहा कि बादशाह सिंह के कांग्रेस में शामिल होने से जहां पूरे बुन्देलखण्ड की जनता में एक संदेश गया है, वहीं वारिस अली के आने से बहराइच में कांग्रेस संगठन को काफी मजबूती मिलेगी.


सदस्यता ग्रहण समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस के समन्वय समिति के चेयरमैन एवं सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा कि बादशाह सिंह संघर्षशील व्यक्ति हैं. इनके साथ आने से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और राजबब्बर के नेतृत्व में जो अभियान शुरू किया गया है उसे मजबूती मिलेगी और हम अपनी मंजिल को अवश्य प्राप्त करेंगे. वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. संतोष सिंह पूर्व सांसद ने कहा कि बादशाह सिंह के आने से बुन्देलखण्ड सहित पूरे प्रदेश में कांग्रेस पार्टी को मजबूती मिलेगी.


इस अवसर पर पूर्व मंत्री बादशाह सिंह ने कहा कि वह पिछले 27 वर्षों से राजनीति में सक्रिय हैं. उन्होने नगर पंचायत खरैला से राजनीति की शुरूआत की थी. उन्होने कहा कि वह सर्वाधिक पिछड़े क्षेत्र बुन्दलखण्ड के हैं जहां कृषि ही मुख्य जीविका का साधन है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के प्रयासों से पूर्ववर्ती यूपीए सरकार ने जो किसानों का ऋण माफ किया था यदि कर्जमाफी न होती तो सौ-दो सौ किसान आत्महत्या कर चुके होते और हजारों बेटियों, बहनों की शादियां रूक गयी होतीं. उन्होने कहा कि वह राहुल गांधी के किसानों की कर्ज माफी की योजना से प्रभावित होकर कांग्रेस परिवार में शामिल हो रहे हैं.


इस अवसर पर बसपा छोड़कर पूर्व विधायक नानपारा वारिस अली ने कहा कि वह राहुल और कांग्रेस पार्टी की नीतियों से काफी प्रभावित हैं और किसानों, सैनिकों एवं आम जनता के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा जो संघर्ष किया जा रहा है उससे प्रभावित होकर कांग्रेस पार्टी में शामिल हो रहे हैं.


सदस्यता ग्रहण समारोह में प्रदेश कांग्रेस के कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन व पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, उपाध्यक्ष सुश्री अनुसुइया शर्मा, महासचिव प्रभारी प्रशासन प्रमोद सिंह एवं महासचिव सर्वजीत सिंह मक्कड, पूर्व सांसद ब्रजलाल खाबरी ने भी सदस्यता ग्रहण करने वालों का स्वागत किया है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top