Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बाबा रामदेव ने सीएम अखिलेश से बुंदेलखंड में माँगा काम

 Sabahat Vijeta |  2016-05-15 14:19:59.0


  • मुख्यमंत्री से योग गुरु बाबा रामदेव ने मुलाकात की

  • बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा करवाए जा रहे कार्यां की प्रशंसा की

  • प्रदेश में विकास कार्य बहुत तेजी से किए जा रहे हैं : बाबा रामदेव

  • बाबा रामदेव ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, लखनऊ मेट्रो जैसी अवस्थापना योजनाओं की भी प्रशंसा की

  • बाबा रामदेव ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र में काम करने में अपनी रुचि व्यक्त की

  • बुन्देलखण्ड में जड़ी-बूटियों, एलोवेरा, आंवला, टमाटर, मटर, सब्जियां, गेहूं, फलों आदि की अच्छी पैदावार हो सकती है, जिससे वहां के किसानों को काफी लाभ होगा : बाबा रामदेव

  • बाबा रामदेव ने बुन्देलखण्ड में अपनी विभिन्न प्रोडक्ट्स के उत्पादन के लिए निवेश की इच्छा भी जतायी

  • बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री से हरिद्वार में सिंचाई विभाग की जमीन पर अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के जड़ी-बूटी पार्क की स्थापना के लिए सहयोग मांगा

  • मुख्यमंत्री ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र में कार्य करने के इच्छुक लोगों को आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए मुख्य सचिव तथा प्रमुख सचिव सिंचाई को विस्तृत नीति बनाने के निर्देश दिए


akh-ramdevलखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से आज उनके सरकारी आवास पर योग गुरु बाबा रामदेव ने मुलाकात की। मुलाकात के दौरान बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा करवाए जा रहे कार्यां की प्रशंसा की और कहा कि प्रदेश में विकास कार्य बहुत तेजी से किए जा रहे हैं।


इस अवसर पर बाबा रामदेव ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र में काम करने में अपनी रुचि व्यक्त की। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड में जड़ी-बूटियों, एलोवेरा, आंवला, टमाटर, मटर, सब्जियां, गेहूं, फलों आदि की अच्छी पैदावार हो सकती है, जिससे वहां के किसानों को काफी लाभ होगा। इसके लिए बुन्देलखण्ड के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित किए गए डैमों के इर्द-गिर्द डूब क्षेत्रों का इस्तेमाल किया जा सकता है।


बाबा रामदेव ने बुन्देलखण्ड में अपनी विभिन्न प्रोडक्ट्स के उत्पादन के लिए निवेश की इच्छा भी जतायी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि राज्य सरकार इसके लिए हर सम्भव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि इन कार्यां के माध्यम से किसानों को जोड़ा जा सकता है, जो उनके लिए लाभकारी साबित होगा। उन्होंने कहा कि इच्छुक लोगों को हरिद्वार में प्रशिक्षण भी दिया जा सकता है। उन्होंने गाय पालन को भी बढ़ावा देने की इच्छा व्यक्त करने के साथ-साथ ‘फॉरवर्ड-बैकवर्ड लिंकेज’ वाले किसान को-ऑपरेटिव की स्थापना पर भी बल दिया और कहा कि इससे भी किसानों का फायदा होगा।


बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री से हरिद्वार में सिंचाई विभाग की जमीन पर एक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के जड़ी-बूटी पार्क की स्थापना के लिए भी सहयोग मांगा, जिस पर मुख्यमंत्री ने उन्हें हर सम्भव सहायता का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री ने भेंट के दौरान मौजूद मुख्य सचिव आलोक रंजन तथा प्रमुख सचिव सिंचाई दीपक सिंघल को विचार-विमर्श करने के उपरान्त एक विस्तृत नीति बनाने के निर्देश दिए ताकि बुन्देलखण्ड क्षेत्र में कार्य करने के इच्छुक लोगों को आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकें।


योग गुरु ने मुलाकात में बताया कि उनके हरिद्वार स्थित कारखाने का शिलान्यास नेताजी द्वारा किया गया था। प्रदेश के सिंचाई मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने भी हरिद्वार का कारखाना देखा है। उन्होंने मुख्यमंत्री को भी अपना कारखाना देखने के लिए आमंत्रित किया।


मुलाकात के दौरान बाबा रामदेव ने गोमती रिवर फ्रण्ट डेवलपमेण्ट, गोमती की सफाई एवं पुनर्जीवन, वाराणसी में वरुणा नदी की सफाई एवं पुनर्जीवन, वृन्दावन में यमुना नदी की सफाई एवं पुनर्जीवन के साथ-साथ अन्य विकास योजनाओं जैसे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, लखनऊ मेट्रो जैसी अवस्थापना योजनाओं की भी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि गोमती नदी का पुनर्जीवन एवं रिवर फ्रण्ट डेवलपमेण्ट दुनिया में मिसाल कायम कर रहा है। राज्य सरकार की इसके लिए जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की नीतियां एवं कार्यक्रम जनोन्मुखी हैं।


इस अवसर पर सिंचाई मंत्री शिवपाल सिंह यादव, राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, प्रमुख सचिव सिंचाई दीपक सिंघल के अलावा बाबा रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण भी मौजूद थे।








Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top