Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अवध यूनीवर्सिटी में चल रही लूट की गवर्नर से शिकायत

 Sabahat Vijeta |  2016-06-30 15:28:55.0

awadh_universityतहलका न्यूज़ ब्यूरो


फैजाबाद. डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध यूनीवर्सिटी फैजाबाद की साधारण सभा के सदस्य ओमप्रकाश सिंह ने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल और कुलाधिपति राम नाइक को पत्र लिखकर डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध यूनीवर्सिटी के कुलपति डॉ. जी.सी.आर. जायसवाल और विश्वविद्यालय प्रशासन पर भ्रष्टाचार, गैर कानूनी कार्यों और छात्रों के शोषण के गंभीर आरोप लगाए हैं.


राज्यपाल से की गई शिकायत में ओम प्रकाश सिंह ने कहा है कि कुलपति के भ्रष्टाचार के खिलाफ हम लोग विगत कई माह से आन्दोलनरत हैं. इनके कृत्यों के बारे में आप को पत्रों के माध्यम से अवगत भी कराते रहे हैं.


उन्होंने कहा है कि अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कुलपति विश्वविद्यालय में रैकेट बनाकर काम करते हैं और इस बार उनके रैकेट में शामिल हुए हैं यहाँ के वित्त अधिकारी.


वित्त अधिकारी ने अपने सेवाकाल के अन्तिम से एक दिन पहले गोपनीय मुद्रण के मद में रूपये 11.5 करोड़ का भुगतान कर दिया है. आपको यह जानकारी देना आवश्यक है कि वर्तमान सत्र का अभी परीक्षा परिणाम भी नही आया है और वित्त अधिकारी ने कमीशन की जल्दबाजी में इतना बड़ा भुगतान जाते-जाते कर दिया. जबकि प्रश्नपत्र बनाने वाले परीक्षकों का भुगतान अभी तक नहीं हुआ है और गोपनीयता के नाम पर ही उनके भुगतान में विलम्ब किया गया.


पत्र में कहा गया है कि चूँकि गोपनीय मुद्रण कराने का कार्य कुलपति के बहुत ही नजदीकी व्यक्ति द्वारा पार्टनरशिप में किया जाता है और वर्तमान प्रकरणों में गोपनीय मुद्रण भी एक बड़ा प्रकरण है और कुलपति एवं वित्त अधिकारी को यह आभास है कि उक्त प्रकरणों पर जांच होगी और तब यह भुगतान कर पाना सम्भव न होगा इसलिए इतनी जल्दबाजी में रातों रात इतना बड़ा भुगतान कुलपति एवं वित अधिकारी ने मिलकर कर दिया.


इसे भ्रष्टाचार का ज्वलन्त उदाहरण बताते हुए कहा गया है कि इस प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए तत्काल कुलपति, वित्त अधिकारी एवं गोपनीय मुद्रण का कार्य कर रही एजेन्सी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया जाना चाहिए एवं पूरे प्रकरण की गहन जांच कर अनधिकृत रूप से किए गये भुगतान की वसूली सुनिश्चित कराई जाए.


कुलाधिपति को लिखे इस पत्र में उनका घ्यान कुलपति और वित्त अधिकारी द्वारा गोपनीय मुद्रण में चल रहे खेल की तरफ आकृष्ट कराया गया है. पत्र में कहा गया है कि यूनीवर्सिटी में हर तरफ लूट मची है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top