Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अमेठी को प्रशांत किशोर की नहीं प्रियंका की ज़रुरत है.

 Sabahat Vijeta |  2016-07-02 13:27:22.0

priyankagandhiतहलका न्यूज़ ब्यूरो


अमेठी. कांग्रेस के मिशन-2017 की रणनीति बनाने में जुटे प्रशांत किशोर की टीम आज राहुल गांधी के गढ़ में मतदाताओं की नब्ज़ तलाशने पहुँची तो अमेठी के लोगों ने यह बात साफ़ कर दी कि हमारे यहाँ के चुनाव प्रचार की कमान प्रियंका गांधी के हाथ में रहती है और उसे किसी दूसरे रणनीतिकार की ज़रुरत नहीं है. प्रशांत किशोर की टीम जिस दरवाज़े पर गई वहां से निकले व्यक्ति की निगाहें प्रियंका को ही तलाशती नज़र आईं.


अमेठी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का अभेद्य किला है. यहाँ के लोग गांधी परिवार से सीधे जुड़े हैं. अपने तमाम मुद्दों पर वह सीधे राहुल या प्रियंका से बात करते हैं. प्रशांत किशोर की टीम उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों का दौरा करने में लगी है. इस दौरे में वह स्थानीय लोगों के अलावा जिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों से लेकर ब्लाक स्तर के अध्यक्षों तक से मुलाक़ात करती है. इन लोगों की बातें टीम गौर से सुनती है और उन्हें अपनी रणनीति बताती है.


आज अमेठी में प्रशांत किशोर की टीम को जो अनूठा अनुभव मिला वह उसे भी लम्बे समय तक याद रहने वाला होगा. इस टीम ने गौरीगंज में जिला कांग्रेस कमेटी और ब्लाक अध्यक्षों के साथ कई घंटे की बैठक की लेकिन इस बैठक का नतीजा सिफर ही रहा क्योंकि यहाँ के लोग सोनिया, राहुल और प्रियंका के अलावा किसी की राय सुनने को तैयार ही नहीं हैं. यहाँ के लोगों ने प्रशांत किशोर की टीम को बताया कि पिछले चार महीनों में प्रियंका का कई बार अमेठी का कार्यक्रम बना लेकिन पता नहीं क्यों निरस्त हो गया. वह आयेंगी तो वही बतायेंगी कि हम लोगों को क्या करना है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top