Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सपा संग्राम: जानिए सपा सुप्रीमो अखिलेेश यादव ने इमरजेंसी अधिवेशन में क्‍या कहा

 Girish |  2017-01-01 07:00:43.0

akhilesh


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
समाजवादी पार्टी में मचे सियासी घमासान के बीच यूपी के सीएम अखिलेश यादव और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने लखनऊ के जनेश्‍वर मिश्र पार्क में इमरजेंसी राष्ट्रीय अधिवेशन किया। इसमें सीएम अखिलेश यादव को सपा का राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनाया है। साथ ही मुलायम सिंह यादव को पार्टी का संरक्षक बनाया गया है।


वहीं शिवपाल सिंह यादव से पार्टी प्रदेश अध्‍यक्ष की कुर्सी छिन ली गई है। इसके अलावा राज्‍य सभा सांसद अमर सिंह को सपा से बाहर कर दिया गया है।


अखिलेश यादव ने कहा कि:-


इस दौरान सपा सुप्रीमो और यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी का जो सम्मान है, नेताजी का जो स्थान है वो बना रहेगा। उन्‍होंने कहा कि कुछ ताकतें ऐसी हैं जो चाहती हैं की सरकार न बने। दोबारा सरकार बनने पर सबसे ज्यादा नेताजी खुश होंगे।


सीएम अखिलेश ने कहा कि नेताजी के खिलाफ साजिश करने वालों के खिलाफ हूं। नेताजी एक बार भी कहते तो में अपने पद से हट जाता। उन्‍होंने कहा कि मैं नेता जी का पहले भी सम्मान करता था आगे भी करूंगा।


समाजवादी पार्टी में स‍ाजिश करने वाले को नहीं छोड़ा जाएगा। नेता जी हमारे पिता जी रहेंगे ये रिश्ता कोई बदल नहीं सकता। सीएम अखिलेश ने कहा कि मेरा नेताजी से रिश्ता कोई खत्म नही कर सकता, पार्टी, परिवार बचाने के लिए सभी जिम्मेदारी निभाऊंगा।


वहीं अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी ने मुझे मुख्यमंत्री बनाया था और इन लोगों ने मेरे खिलाफ साजिश करके न केवल पार्टी को नुकसान पहुंचाने का काम किया। वहीं, राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के सामने भी संकट पैदा किया। नेताजी के खिलाफ साजिश हो तो मेरी जिम्मेदारी बनती है कि मैं ऐसे लोगों के खिलाफ बोलूं। लोगों ने अपने घर से टाइपराइटर लाकर मेरे खिलाफ चिट्ठियां छपवाईं।


पार्टी कार्यकर्ताओं को अधिवेशन में शामिल होने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा, कुछ लोग ऐसे हैं, जो चाहते हैं कि सपा की सरकार नहीं बने।पार्टी बचाने की मेरी जिम्मेदारी है और वह मैं करता रहूंगा। मैंने अपने सभी नेताओं को जिम्मेदारी दी है कि एक बार और सपा की सरकार बने। सरकार जब बनेगी और बहुमत आएगा तो सबसे ज्यादा नेताजी को खुशी होगी।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top