Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम विधेयक इसी सत्र में पारित होना चाहिए

 Vikas Tiwari |  2016-08-22 17:35:04.0

अधिवक्तालखनऊ.  एडवोकेट्स सिक्योरिटी बिल को संसद द्वारा पारित कराये जाने को लेकर जारी वकीलों के राष्ट्र व्यापी अभियान के तहत आगामी सितम्बर माह के प्रथम सप्ताह में लखनऊ से दिल्ली तक अधिवक्ता सुरक्षा यात्रा प्रारम्भ की जायेगी. सोमवार को यहाँ ऑल इण्डिया रुलर्स बार एसोसिएशन की प्रांतीय कार्य समिति की बैठक में यह ऐलान करते हुये राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों की वकीलों के सुरक्षा के प्रति लगातार अनदेखी से उत्तर प्रदेश में ही इस समय वकीलों की बर्बर हत्या और उन पर प्राणघातक हमलों का आंकड़ा देश के अन्य राज्यों की अपेक्षा सर्वाधिक है.


राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश ने कहा कि चूँकि संसद में अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम कानून को विधेयक के रूप में कानून का दर्जा देने के लिए देश के आधे से अधिक राज्य के विधान मण्डल के जरिये भी विधेयक के मसौदा को पास कराने की संवैधानिक बाध्यता है, इसलिये यदि वाकई में यूपी की अखिलेश सरकार वकीलों की हितैषी होने का जो दावा करती है तो उसे नैतिक रूप से उत्तर प्रदेश विधानसभा के इसी मौजूदा सत्र में इस विधेयक के मसौदे को सर्व सम्मति से विधान मण्डल द्वारा पारित कराया जाना चाहिए.

उन्होंने प्रदेश सरकार को आगाह भी किया कि यदि वह प्रदेश के वकीलों के लिये कई कल्याणकारी वायदे पूरा नहीं कर पाती तो सरकार के इस कोरे आश्वासन को लेकर विधान सभा चुनाव में प्रदेश भर के वकील सरकार की वायदाखिलाफी पर अखिलेश सरकार को सबक सिखायेंगे. इस मौके पर महेंद्र शुक्ल, टी. पी. त्रिपाठी, डी. पी. सिंह, अशोक दीक्षित, हरिश्चंद्र पाण्डेय, अशोक मौर्या, राजेश तिवारी, पुनीत पाण्डेय, हरिशंकर द्विवेदी आदि अधिवक्ता मौजूद रहे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top