Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

किशोरों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए आयोजित किया गया 'किशोर स्वास्थ्य दिवस'

 Vikas Tiwari |  2016-10-06 18:28:39.0

किशोर स्वास्थ्य दिवस

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में किशोरों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी एवं व्यवहार को बढ़ावा देने व इससे जुड़ी सुविधाओं की जानकारी देने के उद्देश्य से किशोर स्वास्थ्य दिवस आयोजित किया जा रहा है| ये आयोजन राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम (RKSK) की समुदाय आधारित रणनीति का एक महत्वपूर्ण अंग है|


इस वर्ष किशोर स्वास्थ्य दिवस ब्लाक स्तर पर (सामुदायिक स्वास्थय केंद्र/ प्राथमिक स्वास्थय केंद्र) वर्ष में दो बार मनाया जाना है| प्रथम बार यह 6 अक्टूबर से 8 अक्टूबर के बीच 25 उच्च प्राथमिक जिलो के चयनित ब्लॉक में आयोजित किया जा रहा है तथा दूसरा चरण इसके 6 माह बाद ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित किया जाएगा जिसमें 10-19 वर्ष के स्कूल जाने व न जाने वाले, विवाहित एवं अविवाहित किशोर भाग लेंगे|


इसको आयोजित करने में प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, काउंसलर, ए.एन.एम्, आशा, आंगनवाडी एवं पीयर एजुकेटर की प्रमुख भूमिका है| क्षेत्र में किशोरों को सुविधा प्रदान करने हेतु विभिन्न सामग्री आयोजित कर ली गई है|


इस दिन किशोरों को उनके स्वास्थ्य से जुडी विभिन्न सेवाएं प्रदान की जाएंगी जिनमें पोषण, यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य, नशावृत्ति, असंचारित बीमारियों के विषय में परामर्श दिया जाएगा| इसी के साथ उनकी सामान्य स्वास्थ्य जांच भी की जाएगी और आवश्यकतानुसार उन्हें आयरन फोलिक एसिड की गोलियां, सेनेटरी नैपकिन, एल्बेन्दाजोल की गोली, पेट दर्द की दवा, गर्भनिरोधक गोलियां इत्यादि उपलब्ध करवाई जाएंगी |


इस सम्बन्ध में प्रदेश के विभिन्न  जिलों में चयनित ब्लॉक पर आज सुबह 10 बजे से 3 बजे तक इस सत्र का आयोजन किया गया जिसमें महाराजगंज जिले के लक्ष्मीपुर ब्लाक कार्यालय पर प्रभारी चिकित्सक (MOIC) ए.एन.एम्., आशा, पीयर एजुकेटर एवं तकनीकी सहयोग इकाई के प्रतिनिधियों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया| इस अवसर पर  तीन ब्लाक से 178 पीयर एजुकेटर उपस्थित थे एवं इस दौरान 120 लाभार्थियों ने सेवा प्राप्त की| इस दौरान किशोरों के वजन, खून एवं रक्तचाप की जांच की गई तथा इसी के साथ उन्हें पोषण,परिवार नियोजन, मासिक के दौरान रखी जाने वाली साफ़ सफाई इत्यादि पर परामर्श दिया गया| लाभार्थियों को आवश्यकतानुसार सेनेटरी नैपकिन, एल्बेन्डाजोल व आयरन की गोलियां भी दी गईं|  मासिक से जुडी भ्रांतियों को दूर करने हेतु किशोरों को एक वीडिओ क्लिप दिखाई गई और साथ में एक पाठ्य सामग्री भी दी गई जिसमें साफ़ सफाई के अतिरिक्त आम बीमारियों से जुडी जानकारी भी थी| इस अवसर पर उपस्थित पीयर एजुकेटर सोनी मदेशिया ने बताया कि वे किशोरियों को मासिक के दौरान ज़रूरी साफ़ सफाई के बारे में बताती हैं| वहीँ संदीप बताते हैं कि उनकी भूमिका में परिवार नियोजन के साथ नशावृति के विषय में चर्चा करना भी शामिल है| इस अवसर पर परामर्श दे रही नर्स मेंटर श्रुति बताती हैं कि “लडकियां माहवारी से जुडी जानकारी प्राप्त करने की इक्छुक थी वहीँ लड़के नशावृति से जुड़े प्रश्न कर रहे थे|”


प्रदेश के कई अन्य जिलों में भी इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित हुए. खीरी के फूलबहेड सी.एच.सी में आयोजित कार्यक्रम में 150 किशोर-किशोरियों ने हिस्सा लिया| किशोर स्वास्थय से मुद्दों पर किशोर-किशोरियों को बात करने में झिझक न हो इसलिए सभी ने कागज़ में लिखकर अपने प्रश्नों के उत्तर जाने कार्यक्रम में भाग लेने वाली खैय्या गाँव की पियर एजुकेटर-उदिता श्रीवास्तव ने बताया कि “इस तरह का कार्यक्रम पहली बार हुआ हैं और इससे हमें शारीरिक विकास, एनेमिया के कारण, मासिक धर्म सम्बन्धी काफी नयी जानकारियाँ मिली हैं”|



कुछ जगहों पर चुनौतियाँ भी रहीं जैसे इलाहाबाद के चाका ब्लाक के अरैल पी.एच.सी. पर प्रभारी चिकित्सक, काउंसलर, तथा तकनीकी सहयोग इकाई के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में इस कार्यक्रम को आयोजित किया गया| प्रभारी चिकित्सक डॉक्टर एस.के.दिवाकर ने बताया कि “आशा और अ.एन.एम्. की हड़ताल होने के बावजूद हमारे प्राथमिक स्वास्थय केंद्र पर किशोर थी दिवस सम्पन्न किया जा रहा है| किशोर हमारी अग्रिम पीढ़ी की नीव हैं अतः उनका स्वास्थय बहुत ज़रूरी है और ये उनके बेहतर स्वास्थ्य की तरफ उठाया  गया एक कदम है|”


सीतापुर, हरदोई और एटा जिलों में भी कार्यक्रम का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया | ये गतिविधि प्रदेश के इन 64 ब्लॉकों में 7 व 8 अक्टूबर को भी जारी रहेगी|

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top