Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

5 साल में समाजवादी सरकार ने प्रदेश में कैपिटल इन्वेस्टमेण्ट को बड़ी मात्रा में बढ़ाया: मुख्यमंत्री

 Sabahat Vijeta |  2016-12-16 16:51:21.0

cm-india-today




  • बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य, शिक्षा और पेयजल आदि क्षेत्रों में प्रदेश सरकार ने उदाहरण पेश करने वाले काम किये

  • बुनियादी ढांचे को मजबूत करने से विकास गतिविधियां तेजी से बढ़ती हैं, इसलिए बुनियादी ढांचे को बेहतर करने पर खास ध्यान दिया गया है

  • समाजवादी सरकार ने परियोजनाओं को समय से पूरा करके देश के सामने उदाहरण प्रस्तुत किया

  • वर्तमान राज्य सरकार को केन्द्र सरकार से ज्यादा अवार्ड मिले बेहतर कामकाज के कारण समाजवादी सरकार द्वारा दिये गये लैपटाॅप और आने वाले समय में दिये जाने वाले स्मार्टफोन ही देश की अर्थव्यवस्था को कैशलेस बनाने में मदद करेंगे

  • मुख्यमंत्री ने इण्डिया टुडे द्वारा चयनित प्रदेश के बेस्ट परफाॅर्मिंग तथा मोस्ट इम्प्रूव्ड जनपदों को सम्मानित किया

  • ‘इण्डिया टुडे: राज्यों की दशा-दिशा उत्तर प्रदेश’ पत्रिका का विमोचन भी किया

  • मुख्यमंत्री ‘इण्डिया टुडे द स्टेट आॅफ द स्टेट काॅन्क्लेव उत्तर प्रदेश’ में शामिल हुए


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि पिछले 5 साल में समाजवादी सरकार ने प्रदेश में कैपिटल इन्वेस्टमेण्ट को बड़ी मात्रा में बढ़ाया है। बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य, शिक्षा और पेयजल आदि क्षेत्रों में प्रदेश सरकार ने उदाहरण पेश करने वाले काम किये हैं। बुनियादी ढांचे को मजबूत करने से विकास गतिविधियां तेजी से बढ़ती हैं। इसलिए बुनियादी ढांचे को बेहतर करने पर खास ध्यान दिया गया है। राज्य सरकार अपनी नीतियों, कार्यक्रमों और योजनाओं के माध्यम से प्रदेश को तेजी से विकास पथ पर ले गयी है। समाजवादी सरकार ने परियोजनाओं को समय से पूरा करके भी देश के सामने उदाहरण प्रस्तुत किया है।


मुख्यमंत्री आज यहां होटल ताज विवान्ता में आयोजित ‘इण्डिया टुडे द स्टेट आॅफ द स्टेट काॅन्क्लेव उत्तर प्रदेश’ में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने ‘इण्डिया टुडे: राज्यों की दशा-दिशा उत्तर प्रदेश’ पत्रिका का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह के काॅन्क्लेव पहले दिल्ली और मुम्बई जैसे बड़े शहरों में आयोजित होते थे। इस काॅन्क्लेव के लखनऊ में आयोजन का मतलब है कि लखनऊ ग्रोथ के रास्ते पर है।


पत्रिका में उत्तर प्रदेश के जनपदों से सम्बन्धित आंकड़ों को शामिल करने पर इण्डिया टुडे समूह की तारीफ करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे प्रदेश के जनपदों के लिए प्रदेश सरकार बेहतर योजनाएं बना सकेगी। उन्होंने कहा कि आंकड़े उपलब्ध होने से प्लानिंग करने में आसानी होती है। इससे किसी स्थान या समुदाय की जरूरतें पता चलती हैं। आंकड़े उपलब्ध होने पर आवश्यकता के मुताबिक योजना बनाकर तथा प्रशासनिक फैसले लेकर बेहतर परिणाम प्राप्त किये जा सकते हैं।


cm-india-today-2


श्री यादव ने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के निर्माण से केवल देश और प्रदेश की राजधानियां ही नहीं जुड़ीं बल्कि अनेक शहर और गांव भी जुड़े हैं। इसके किनारे जो मण्डियां बन रही हैं उससे किसानों और ग्रामीण इलाकों की अर्थव्यवस्था को बहुत लाभ होगा। समाजवादी सरकार ने प्रदेश में डीएमआईसी फ्रेट काॅरिडोर के लिए जरूरी सुविधाएं मुहैया कराकर बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने के लिए काम किया है। बुनियादी ढांचे को मजबूत करने से विकास गतिविधियां तेजी से बढ़ती हैं। इसीलिए समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के रूप में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को आगे बढ़ाकर सुल्तानपुर, आजमगढ़ होते हुए गाजीपुर-बलिया तक ले जाया जा रहा है। इससे प्रदेश के पूर्वी इलाके में भी आर्थिक गतिविधियां बढेंगी और इस क्षेत्र का विकास सम्भव हो पाएगा।


श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने अनेक शहरों में मेट्रो रेल परियोजनाएं शुरू करायी हैं। समाजवादी सरकार द्वारा प्रारम्भ की गई ‘यूपी-100’ पुलिस आपातकालीन प्रबन्धन प्रणाली सेवा की सफलता की खबरें लगातार आ रही हैं। समाजवादी सरकार की निःशुल्क लैपटाॅप वितरण योजना से प्रदेश के गांव-गांव में लैपटाॅप पहुंच गया। 18 लाख छात्र-छात्राओं को लैपटाॅप वितरित करने से डिजिटल डिवाइड कम हुआ है। आने वाले समय में स्मार्टफोन भी लोगों तक पहुचाएंगे। बिना प्रचार के स्मार्टफोन के लिए लगभग एक करोड़ रजिस्ट्रेशन हो चुका है। प्रचार करने पर यह संख्या 3 करोड़ भी हो सकती है। लोगों ने इतने बड़े पैमाने पर स्मार्टफोन के लिए रजिस्ट्रेशन इसीलिए कराया है क्योंकि उन्हें भरोसा है कि समाजवादी अपना वादा पूरा करते हैं।


मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरठ से करनाल, मुरादाबाद से सम्भल, बरेली से हल्द्वानी, बाबतपुर से भदोही, बरेली से बदायूं आदि सहित समाजवादी सरकार द्वारा अभी तक 50 से भी अधिक जिला मुख्यालयों को 4-लेन सड़कों से जोड़ा जा चुका है। देवरिया-गोरखपुर, देवरिया-सलेमपुर आदि का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश के पूर्वी इलाके में भी अनेक 4-लेन सड़कों पर काम प्रारम्भ हो गया है। शहरी इलाकों में 24 घण्टे तथा ग्रामीण इलाकों में 18 घण्टे बिजली की आपूर्ति की जा रही है, आने वाले समय में गांवों में भी 24 घण्टे बिजली पहुंचायी जाएगी। ग्रेटर नोएडा की बेनेट यूनीवर्सिटी तथा लखनऊ में एचसीएल द्वारा विकसित आईटी सिटी का उदाहरण देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादियों ने अनेक विश्वविद्यालय व शैक्षिक संस्थाओं की स्थापना भी करायी है, जिससे नौजवानों की शिक्षा और कौशल विकास के बेहतर अवसर प्रदेश में ही मुहैया हुए हैं।


cm-india-today-3


श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए अनेक कदम उठाए। किसानों को मुफ्त सिंचाई के साथ बीज, खाद तथा अन्य कृषि निवेशों की समय से उपलब्धता सुनिश्चित की गयी। कामधेनु डेयरी योजना से दूध उत्पादन के साथ-साथ पशुधन में भी बढ़ोत्तरी हुई है। प्रदेश सरकार अपने दुग्ध ब्राण्ड ‘पराग’ को फिर से मजबूती से खड़ा करने के लिए काम कर रही है। इसके अलावा, इटावा में मदर डेयरी का प्लाण्ट तथा दो अन्य स्थलों पर अमूल प्लाण्ट लगाया जा रहा है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि राजनीति में आज जो बदलाव आया है उसमें जनता चाहती है कि देश विकास के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़े। इसलिए सरकारों को लोगों के जीवन में खुशहाली लाने वाले फैसले लेते रहना चाहिए। वर्तमान राज्य सरकार को केन्द्र सरकार से ज्यादा अवार्ड मिले हैं। यह तभी सम्भव हुआ है जब प्रदेश सरकार का काम काज बेहतर हुआ है। आज देश की जनता भी मानती है कि समाजवादियों ने उत्तर प्रदेश को आगे बढ़ाने के लिए काम किया है। प्रदेश के गरीब, किसान, मजदूर चाहते हैं कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार फिर से सत्ता में आये। काम और परिस्थितियां दोनों समाजवादियों के साथ हैं। उत्तर प्रदेश में फिर से समाजवादी सरकार बनेगी।


श्री यादव ने कहा कि नोटबंदी से पहले केन्द्र सरकार ने कोई तैयारी नहीं की, जिससे आम जनता को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। आने वाले समय में रोजगार की कमी के कारण लोगों की कठिनाइयां और भी बढ़ सकती हैं। नोटबंदी के अपने उद्देश्यों में असफलता के चलते अब उसका लक्ष्य कैशलेस अर्थव्यवस्था के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है, जबकि इसके लिए भी कोई तैयारी नहीं है। समाजवादी सरकार द्वारा निःशुल्क वितरित किये गये लैपटाॅप और आने वाले समय में दिये जाने वाले स्मार्टफोन ही देश की अर्थव्यवस्था को कैशलेस बनाने में मदद करेंगे।


इस मौके पर मुख्यमंत्री ने इण्डिया टुडे द्वारा चयनित विभिन्न क्षेत्रों में प्रदेश के बेस्ट परफाॅर्मिंग तथा मोस्ट इम्प्रूव्ड जनपदों को सम्मानित भी किया। बेस्ट परफाॅर्मिंग तथा मोस्ट इम्प्रूव्ड जनपदों का अवार्ड शिक्षा के क्षेत्र में क्रमशः इटावा व देवरिया, इन्फ्रास्ट्रक्चर में गाज़ियाबाद व रायबरेली, कृषि में पीलीभीत व ललितपुर, कानून व्यवस्था में श्रावस्ती व अम्बेडकरनगर, वाटर एण्ड सेनिटेशन में गौतमबुद्धनगर व कानपुर देहात, प्राॅस्पेरिटी में गौतमबुद्धनगर व आगरा, इण्डस्ट्री में गौतमबुद्धनगर व फतेहपुर, सेवा क्षेत्र में लखनऊ व श्रावस्ती, स्वास्थ्य में सन्तकबीरनगर व कौशाम्बी तथा ओवर आल गौतमबुद्धनगर व फतेहपुर को दिया गया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top