Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

18 से 20 नवम्बर तक होगा लखनऊ लिटरेचर फेस्टिवल

 Sabahat Vijeta |  2016-11-13 17:14:15.0

navneet-sahgal
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. राजधानी के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 18 से 20 नवम्बर तक लखनऊ लिटरेचर फेस्टिवल-2016 का आयोजन किया जायेगा. उत्तर प्रदेश के पर्यटन विभाग के सहयोग से होने वाले इस फेस्टिवल के सम्बन्ध में प्रमुख सचिव पर्यटन नवनीत सहगल ने बताया कि साहित्य और कला के क्षेत्र में लखनऊ, बनारस और जयपुर का देश में ख़ास स्थान है. उन्होंने कहा कि लखनऊ लिटरेचर फेस्टिवल में तमाम विधाओं को अच्छे अंदाज़ में पेश किया जाता है इसी वजह से पर्यटन विभाग इससे जुड़ा है ताकि यूपी के पर्यटन को बढ़ावा देने में भी इसका सहयोग लिया जा सके.


उन्होंने कहा कि प्रदेश में होने वाले ऐसे अन्य आयोजनों से भी पर्यटन विभाग जुड़ेगा. हम कोशिश करेंगे कि ऐसे आयोजन इलाहाबाद और बनारस में भी हों. उन्होंने कहा कि पर्यटन विभाग बुन्देली और अवधी कलाओं और खानपान को बढ़ावा देने का काम भी करेगा.


श्री सहगल ने बताया कि छतर मंजिल को पर्यटन से जोड़ने के लिए उसे संस्कृति विभाग से ले लिया गया है. अब इसमें ऐसे कार्यक्रम कराये जायेंगे जिससे लोग इससे जुड़ें. उन्होंने बताया कि साहित्यकारों के घरों को संरक्षित करने के लिए संस्कृति विभाग से बातचीत चल रही है.


आयोजक कनक रेखा चौहान ने बताया कि इस आयोजन में गीतकार जावेद अख्तर, कथक नृत्यान्गना शोवना नारायण, तुषार गांधी और सैम मिलर को भी आमंत्रित किया गया है. उन्होंने बताया कि सूरीनाम और मारीशस में भारत की संस्कृति को जिंदा रखने वाली कुछ प्रमुख शख्सियतें भी कार्यक्रम का हिस्सा बनेंगी.


उन्होंने बताया कि लखनऊ लिटरेचर फेस्टिवल में कवि सम्मेलन-मुशायरा भी होगा. कैलियोग्राफ़ी, स्केच, स्कल्पचर और पेंटिंग पर भी बात होगी.


जयंत कृष्णा ने बताया कि लखनऊ लिटरेचर फेस्टिवल में बुन्देलखंड के आल्हा गीत और दलित साहित्य पर भी विस्तार से चर्चा होगी. उन्होंने बताया कि जे एन यू की उपाध्यक्ष शहला राशिद भी इस आयोजन में शामिल होंगी.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top