Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

16 करोड़ की लागत से राजधानी का लतीफपुर गाँव बनेगा स्मार्ट

 Sabahat Vijeta |  2016-12-28 14:58:53.0

shweta-singh
आई-स्पर्श योजना के तहत 12.63 15.96 करोड़ रुपये जारी


लखनऊ. राजधानी लखनऊ के माल ब्लाक की लतीफपुर ग्राम पंचायत को स्मार्ट बनाने के लिए सरकार ने 15.96 करोड़ रूपये की धनराशि जारी कर दी है. इस धनराशि से गांव में 26 परियोजनाएं संचालित की जायेंगी. लखनऊ के जिलाधिकारी को 19 परियोजनाओं के लिए 10.37 करोड़ प्रदान किये गये हैं. जल निगम को 2.26 करोड़ की धनराशि पेयजल व्यवस्था के लिए दी गयी है. आई-स्पर्श के लिए चयनित प्रदेश के 19 गांवों में सर्वाधिक धनराशि लतीफपुर को दी गई है.


जिलाधिकारी को भेजी गई धनराशि से सोलर सम्बन्धी 5 परियोजनाएं पूरी कराई जायेंगी. 6 वाटर ए.टी.एम., 27 हाईमास्ट, 3 आर.ओ. सिस्टम और 44 एल.ई.डी. युक्त स्ट्रीट लाइट गांव में लगाई जायेंगी. प्राचीन हनुमान मंदिर को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किये जाने के लिए 46.57 लाख की धनराशि मंजूर की गयी है. 2 करोड़ 42 लाख की लागत से गांव में आई-स्पर्श स्मार्ट भवन बनाया जायेगा. कोटेदार से लेकर आशा बहू तक सभी ग्राम स्तरीय कर्मचारियों के कार्यालय इस भवन में संचालित किये जायेंगे. भवन में गेस्ट हाउस, कम्युनिटी किचन, कर्मचारी आवास और बैंकिंग सेवाओं के प्रबन्ध किये गये हैं. 500 व्यक्तियों की क्षमता वाला सभागार भी स्मार्ट भवन में बनाया जायेगा. 20 लाख की लागत से स्मार्ट जिम और 45 लाख से बनने वाला स्टेडियम स्मार्ट भवन को चार-चाँद लगायेगा. 65 लाख की यह धनराशि अलग से प्रदान की गयी है.


जानवरों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 8 लाख से चरही का निर्माण कराया जायेगा. पशुओं को पौष्टिक भोजन के लिए 32.56 लाख की लागत से हरा चारा उत्पादन केन्द्र स्थापित किया जायेगा. इसका संचालन ग्राम पंचायत स्वयं करेगी. हरा चारा उत्पादन केन्द्र की आय से ग्राम पंचायत गरीब युवतियों के सामूहिक विवाह जैसे कल्याणकारी कार्यक्रम संचालित करेगी. 88.03 लाख खर्च से आबादी के अन्दर के 3 तालाब सुन्दर बनेंगे. महराज सरोवर, बिर्री का तालाब और गढ़थम्भा स्थित तालाब में घाट बनाकर तालाबों को रौनक दी जायेगी. वृक्षारोपण और फुटपाथ निर्माण के जरिए तालाबों के किनारे सैर करने की सुविधा ग्रामीणों को मिलेगी. साफ-सफाई के लिए 4 लाख की लागत से कूड़ेदान बनाये जायेंगे. प्रवेश द्वारों के निर्माण के लिए 20 लाख की धनराशि आवंटित की गयी है.


31.66 लाख की लागत से सामुदायिक शौचालय तथा 25 लाख की लागत से पुलिस चौकी की स्थापना की जायेगी. गौरैया अऊमऊ मार्ग से लतीफपुर होते हुए सुल्तानपुर तक सड़क की दोनों पटरियों पर फुटपाथ निर्माण के लिए 96.08 लाख रूपये प्रदान किये गये हैं, जबकि लतीफपुर सम्पर्क मार्ग के दोनों ओर फुटपाथ निर्माण पर 84 लाख 55 हजार रुपये खर्च होंगे. एक करोड़ 93 लाख की लागत से गांव की गलियों और नालियों का निर्माण कराये जाने की मंजूरी प्रदान करते हुए धनराशि जिलाधिकारी को भेजी गयी है. लतीफपुर, गढ़थम्भा एवं बाजार में पेयजल की पाइप लाइन बिछाये जाने के लिए धनराशि जल निगम को भेजी गयी है. पानी की बड़ी टंकी बनाकर 2 करोड़ 26 लाख की धनराशि से पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी.


लोक निर्माण विभाग ने अपने विभागीय बजट से गौरैया अऊमऊ मार्ग से लतीफपुर मार्ग की मरम्मत कराने हेतु 71 लाख की धनराशि जारी कर दी है. लतीफपुर होते हुए सुल्तानपुर मार्ग तक नई सड़क निर्माण के लिए एक करोड़ 55 लाख रुपये प्रदान किये गये हैं. 79 प्रधानमंत्री आवास निर्माण के लिए ग्राम्य विकास विभाग ने 94.80 लाख की धनराशि का प्राविधान किया है. 200 लाभार्थियों को समाजवादी पेंशन के लिए समाज कल्याण विभाग ने 12 लाख रुपये जारी किये हैं.


लतीफपुर की प्रधान श्वेता सिंह ने बताया कि आई-स्पर्श स्मार्ट ग्राम योजना के तहत 105 परियोजनाओं का प्रस्ताव ग्राम पंचायत ने दिया था. ग्राम स्तरीय समिति की संस्तुति के बाद जनपदीय समिति ने इसे राज्य स्तरीय अनुमोदन एवं अनुश्रवण समिति को अग्रसारित कर दिया है. 42.06 करोड़ की धनराशि का व्यय इस पर अनुमानित है. इनमें से 97 परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान करे हुए 26.15 करोड़ की धनराशि मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली समिति ने मंजूर कर दी है. शेष 8 परियोजनाओं को राज्य समिति की अगली बैठक में मंजूरी प्रदान कर दिये जाने की उम्मीद महिला प्रधान ने जताई है.


प्रधान श्वेता सिंह ने बताया कि वह प्रति व्यक्ति आय बढ़ाकर लतीफपुर को एक हंसता-खेलता गांव बनाने में जुटी हैं. इस मुहिम में सहयोग के लिए उन्होंने सरकार और मीडिया का आभार जताया है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top